अप्रैल में आएगा VDO प्री-परीक्षा का रिजल्ट: 5,396 पदों के लिए 14 लाख से ज्यादा अभ्यर्थियों ने किया था आवेदन, एक्सपर्ट कमेटी तय करेगी नॉर्मलाईजेशन होगा या नहीं!

0
39



जयपुरएक मिनट पहले

राजस्थान में 5 हजार 396 पदों के लिए आयोजित हुई ग्रामीण विकास अधिकारी प्री-भर्ती परीक्षा का रिजल्ट अप्रैल में जारी होगा। कर्मचारी चयन बोर्ड के अध्यक्ष हरी प्रशाद शर्मा ने बताया कि फिलहाल छात्रों द्वारा दर्ज कराई गई आपत्तियों की जांच रही रही है। जिसमें अभी कुछ और वक्त लगेगा। ऐसे में मार्च में रिजल्ट जारी नहीं होगा।

कमेटी तय करेगी नॉर्मलाईजेशन होगा या नहीं!

शर्मा ने बताया कि नॉर्मलाईजेशन को लेकर फिलहाल कोई फैसला नहीं हुआ है। ऐसे में फाइनल रिजल्ट के बाद ही एक्सपर्ट कमेटी नॉर्मलाईजेशन होगा या नहीं होगा इसका फैसला लेगी। जिसके बाद मई महीने में VDO मुख्य परीक्षा का आयोजन होगा। जिसमें प्री-परीक्षा पास कर चुके 81 हजार (कुल पदों से 15 गुना अभ्यर्थियों) का सिलेक्शन किया जाएगा।

रिजल्ट जारी करने से पहले ही बढ़ाए पद
प्री परीक्षा का रिजल्ट जारी करने से पहले ही राजस्थान सरकार ने ग्रामीण विकास अधिकारी भर्ती में 1500 पद बढ़ा दिए हैं। पहले जहां ग्राम विकास अधिकारी (VDO) के 3,896 पदों पर भर्ती होनी थी। वहीं, अब 5 हजार 396 पदों पर भर्तियां होंगी। कर्मचारी चयन बोर्ड ने संशोधित विज्ञप्ति जारी कर दी है। जिसके तहत अब कुल पदों में से 4,557 पद गैर अनुसूचित क्षेत्र (सामान्य) और 839 पद अनुसूचित क्षेत्र के लिए आरक्षित होंगे।

मई में होगी मुख्य परीक्षा
ग्रामीण विकास अधिकारी (VDO) मुख्य परीक्षा मई महीने में आयोजित की जाएगी। 100 अंकों के लिए 2 घंटे की परीक्षा में 120 प्रश्न पूछे जाएंगे। सभी प्रश्न मल्टीपल च्वॉइस वाले होंगे। इसमें नेगेटिव भी मार्किंग होगी। ऐसे में गलत उत्तर के लिए एक तिहाई अंक काटा जाएगा। मुख्य परीक्षा में सामयिक विषय, भूगोल और प्राकृतिक संसाधन, भारत-राजस्थान के विशेष संदर्भ के साथ कृषि और आर्थिक विकास, इतिहास और संस्कृति से सवाल आएंगे। इसके अलावा साधारण मानिसक योग्यता, रीजनिंग, अंग्रेजी, हिंदी, गणित, कंप्यूटर बेसिक, राज्य जिला तहसील पंचायत स्तर पर राजस्थान के प्रशासनिक ढांचे के प्रश्न भी पूछे जाएंगे।

14 लाख अभियर्थियों ने कराया था रजिस्ट्रेशन
राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड की ओर से प्रदेश के 25 जिलों में 27 और 28 दिसंबर को ग्रामीण विकास अधिकारी (VDO) भर्ती परीक्षा का आयोजन किया गया था। इसके लिए प्रदेश के 14 लाख 92 हजार अभ्यर्थी ने रजिस्ट्रेशन करवाया था। इस दौरान पहली बार ग्रामीण विकास अधिकारी के लेवल फर्स्ट में नेगेटिव मार्किंग नहीं की गई है। ऐसे में उम्मीद जताई जा रही है कि VDO की प्री परीक्षा की कट ऑफ ज्यादा जा सकती है। इससे पहले 31 जनवरी को प्री-परीक्षा की आंसर-की जारी कर आपत्ति मांगी गई थी।

खबरें और भी हैं…



Source link