आपकी इस चोटी सी गलती के कारण बढ़ जाता है कैंसर और दिल की बीमारी का खतरा, कही आप भी तो नहीं करते हैं ये गलती?

0
16


खड़े या चलने की तुलना में बैठने में कम एनर्जी की आवश्यकता होती है. हालांकि लंबे समय तक बैठने से कई स्वास्थ्य समस्याएं जुड़ी हुई हैं. इनमें मोटापा और मेटाबॉलिक सिंड्रोम, हाई ब्लड प्रेशर, हाई ब्लड शुगर, कमर के आसपास अतिरिक्त चर्बी और खराब कोलेस्ट्रॉल का लेवल शामिल है. अत्यधिक बैठने और लंबे समय तक बैठे रहने से दिल की बीमारी और कैंसर का खतरा बढ़ जाता है.

शोधकर्ताओं द्वारा एक्टिवी लेवल और बैठने के समय पर लगभग 13 पेपरों की जांच की गई. उन्होंने पाया कि जो लोग एक दिन में आठ घंटे से अधिक समय तक बैठते हैं, उनमें अधिक वजन और धूम्रपान के कारण होने वाली मृत्यु दर की तुलना की जा सकती है. पिछले कुछ अध्ययनों के विपरीत, 10 लाख से अधिक व्यक्तियों की जानकारी के इस अध्ययन से पता चला है कि रोजाना 60 से 75 मिनट के नॉर्मल शारीरिक व्यायाम में शामिल होने से अत्यधिक बैठने के नेगेटिव रिजल्ट का मुकाबला किया जा सकता है. 

चलें या खड़े रहें
लंबे समय तक बैठे रहने से दिल की बीमारी और कैंसर से मरने का खतरा बढ़ जाता है. अधिक चलना और कम बैठना अच्छी हेल्थ को बढ़ावा देता है. यदि आपके पास विकल्प है, तो बैठने के बजाय केवल खड़े रहें. इसके अलावा, आप चल-चल के भी काम कर सकते हैं.

इन टिप्स को आजमाएं

  • ज्यादा देर बैठने के बजाय हर 30 मिनट में खड़े हो जाएं
  • फोन या टीवी देखते समय अपने पैरों को ऊपर रखें.
  • यदि आप डेस्क पर काम करते हैं या क्रियेटिव हो जाते हैं और एक हाई टेबल या काउंटर का उपयोग करते हैं, तो एक खड़े वर्कस्टेशन का प्रयास करें.
  • सहकर्मियों के साथ टहलते हुए मीटिंग करें

Disclaimer: इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है. हालांकि इसकी नैतिक जिम्मेदारी ज़ी न्यूज़ हिन्दी की नहीं है. हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें. हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है.





Source link