इस खूबसूरत महिला क्रिकेटर ने रचा इतिहास, यूएई में पुरुष टीम को देंगी कोचिंग

0
34


नई दिल्ली: इंग्लिश महिला क्रिकेट टीम (England Women’s Cricket Team) की पूर्व विकेटकीपर-बल्लेबाज सारा टेलर (Sarah Taylor) ने इतिहास रच दिया है. वो किसी फ्रेंचाइजी क्रिकेट टीम की पहली महिला कोच बन गई हैं.

सारा को इस टीम की मिली जिम्मेदारी

अबू धाबी टी-10 (Abu Dhabi T10) लीग की शुरुआत 19 नवंबर को हो रही है. सारा टेलर (Sarah Taylor) अबू धाबी टीम की असिस्टेंट कोच (Assistant Coach) बनाई गई हैं. वो हेड कोच पॉल फारब्रेस (Paul Farbrace) और दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के पूर्व ऑलराउंडर लांस क्लूजनर (Lance Klusener) के साथ मिलकर टीम की जिम्मेदारी संभालेंगी.

यह भी पढ़ें- IPL 2022: वो 3 प्लेयर्स जो बन सकते हैं अहमदाबाद टीम के कप्तान

सारा ने किया खुशी का इजहार

सारा टेलर (Sarah Taylor) ने इस पर खुशी का इजहार किया है, उन्होंने अबू धाबी टीम के ट्विटर हैंडल पर कहा, ‘फ्रेंचाइजी वर्ल्ड में आने पर आपको दुनियाभर के प्लेयर्स और कोच से मिलने का मौका मिलता है जो कि आम बात नहीं. लेकिन मुझे खुशी होगी अगर कोई यंग गर्ल या कोई महिला मुझे टीम की कोचिंग करते हुए देख सकती है और इस मौके को समझते हुए इसके लिए कोशिश कर सकती है, वो कह सकती है कि अगर उसने कर लिया तो मैं क्यू नहीं कर सकी.’

 

 

‘सारा के आने से टीम को मिलेगी मजबूती’

अबू धाबी के जनरल मैनेजर शेन एंडरसन (Shane Anderson) ने कहा, ‘सारा टीम को जबर्दस्त इंटरनेशनल एक्सपीरिएंस और जानकारी दे सकती हैं और उनकी नियुक्ति से हमारे टीम कल्चर बेहतर करने की उम्मीदों को सपोर्ट मिलेगा, जिससे कामयाबी के लिए मजबूत आधार तैयार हो सकेगा.’

 


हैरान रह गई थीं सारा टेलर

सारा टेलर (Sarah Taylor) ने आगे कहा, ‘ये मेरे लिए बड़ा सरप्राइज था. मैं अबू धाबी जाने के लिए दिन गिन रही हूं. मैं इंतजार नहीं कर सकती. जैसे ही मुझे पता लगा कि कौन वो स्टाफ है जिसने इस सफर को ज्यादा एक्साइटिंग बनाया और मैं बेवकूफ कहलाउंगी अगर मैंने इस मौके को गंवा दिया. मुझे अभी काफी कुछ सीखना है, वो लोग मुझे काफी कुछ बताने वाले हैं.’

 


सारा टेलर का इंटरनेशनल करियर

32 साल की सारा टेलर (Sarah Taylor)  ने इंग्लैंड (England) की तरफ से 10 टेस्ट, 126 वनडे और 90 टी-20 इंटरनेशनल मुकाबले खेले हैं. वो आईसीसी महिला वर्ल्ड कप 2017 (ICC Women’s World Cup 2017) की चैंपियन टीम का हिस्सा थीं. सारा ने 2019 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया था.

 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here