एंथ्रोपोलॉजी यानी मल्टीनेशनल करियर ऑप्शन: एमपी में जबलपुर और सागर यूनिवसिर्टी में कोर्स; अच्छे जॉब सरकारी से यूनिसेफ तक में ऑप्शन

0
47



  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Courses At Jabalpur And Sagar Universities In MP; Good Job Options From Government To UNICEF

भोपाल3 घंटे पहले

एंथ्रोपोलॉजी (मानव शास्त्र) एक ऐसा विषय है, जो मानव के विकास से लेकर इतिहास और वर्तमान के अध्ययन किया जाता है। आज के समय में यह सभी मल्टीनेशनल और सरकारी एजेंसियों में जरूरी विषय हो गया है। वर्तमान में यह करियर के लिए अच्छा ऑप्शन है। इससे बड़ी-बड़ी कंपनियों से लेकर सरकारी एजेंसियों में अच्छे जॉब के अवसर हैं। जानते हैं एक्सपर्ट आकाश इंस्टीट्यूट भोपाल के असिस्टेंट डायरेक्टर रणधीर सिंह से…

इसलिए जरूरी हो गया

एंथ्रोपोलॉजी कोर्स में मानव विकास के इतिहास और वर्तमान का अध्ययन किया जाता है। इसमें मानविकी, जीव विज्ञान और भौतिक विज्ञान की जानकारियों का अध्ययन किया जाता है। इससे ही मानव विकास के बारे में नई जानकारी निकाली जाती हैं। इसमें मानव की संपूर्ण स्टडी होती है। इससे लोगों की रुचि और जरूरत के अनुसार प्रोडक्ट बनाने में मदद मिलती है। यही कारण है कि मल्टीनेशनल कंपनियों में एंथ्रोपोलॉजिस्ट की सबसे ज्यादा जरूरत बढ़ गई है।

यह कोर्स करना जरूर

एंथ्रोपोलॉजी में ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री कोर्सेज चलाए जाते हैं। ग्रेजुएट प्रोग्राम में एडमिशन लेने के लिए साइंस से 12वीं पास होना जरूरी है। इसके साथ ही सागर यूनिवर्सिटी में आर्ट्स के छात्र भी एंथ्रोपोलॉजी ले सकते हैं। पीजी करने के लिए एंथ्रोपोलॉजी में ही बैचलर डिग्री अनिवार्य है। इसमें मास्टर्स डिग्री करने के बाद पीएचडी भी एंथ्रोपोलॉजी कर सकते हैं। इस कोर्स में मानव विकास के इतिहास और वर्तमान का अध्ययन किया जाता है।

लोगों की आदतों के बारे में जानना

इस विषय से विश्व के अलग-अलग हिस्सों में रहने वाले लोगों के कल्चर के जानने के बारे में मदद करता है। एक उदाहरण के समझे कि भारत में जैसे टिप देना कल्चर बन गया है। रेस्टाेरेंट में खाना खाने के बाद टिप नहीं देने पर अजीब लगता है, जबकि कुछ देशों में इसे अच्छा नहीं माना जाता है। इसी तरह से एंथ्रोपोलॉजी किसी भी कंपनी के किसी देश में प्रोडक्ट को लांच करने के पहले का अध्ययन होता है।

यह जॉब ऑप्शन

कॉलेज, यूनिवर्सिटी, सरकारी एजेंसी और एनजीओ, बिजनेस, हेल्थ, मानव सेवाएं, कम्युनिटी ऑर्गनाइजेशन, म्यूजिम, स्वतंत्र रिसर्च इंस्टीट्यूट, मीडिया, बीमारी कंट्रोल सेंटर, यूनिसेफ, यूनेस्को, डब्ल्यूएचओ और वर्ल्ड बैंक तक में जॉब ऑप्शन।

यहां से कर सकते हैं पढ़ाई

  • डॉक्टर हरिसिंह गौर यूनिवर्सिटी, सागर
  • हंसराज कॉलेज यूनिवर्सिटी ऑफ दिल्ली
  • हिंदू कॉलेज यूनिवर्सिटी ऑफ दिल्ली
  • पंजाब यूनिवर्सिटी, चंडीगड़
  • यूनिवर्सिटी ऑफ पुणे
  • विद्या सागर यूनिवर्सिटी, कोलकाता
  • उड़ीसा, प्रयागराज, छत्तीसगढ़, हैदराबाद और राजस्थान में एंथ्रोपोलॉजी में कोर्स होते हैं।

ये भी पढ़िए:-

फूड टेक्नोलॉजी करियर में कई ऑप्शन:शुरुआती पैकेज 4 लाख से 14 लाख तक; रिसर्च से टॉप कंपनियों में पाएं बेहतरीन जॉब

फॉरेंसिक साइंस से इंटेलिजेंस तक में जाने का मौका:सरकारी, प्राइवेट एजेंसी और लैबोरेटरी में अच्छे करियर ऑप्शंस; टॉप इंस्टीट्यूट में MP की हरिसिंह गौर विवि शामिल

बायोकेमेस्ट्री से करियर को कीजिए ब्राइट, जानिए एक्सपर्ट से:मेडिसिन से लेकर एग्रिकल्चर, फारेंसिक साइंस और पर्यावरण तक में फील्ड खुल जाती है

IOQ में सक्सेस का मंत्र:इंडियन ओलंपियाड क्वालीफाइ करने के लिए अलग तरह से सोचना होगा; रटने की जगह पिछले पेपर हल करें

IOQ दिलाता है इंटरनेशनल पहचान:इंडियन ओलंपियाड क्वालीफाइ करने वालों को अच्छे कॉलेज-जॉब के अवसर ज्यादा; कॉम्पिटिटिव एग्जाम का एक्सपोजर भी

मैथ्स-साइंस लेकर बने वैज्ञानिक, पैसा भी मिलेगा:11वीं, 12वीं और B.SC फर्स्ट ईयर के स्टूडेंट्स को भी मौका; फॉर्म भरने के लिए 10वीं में 75% होना जरूरी

IIT की तैयारी खुले दिमाग से करें:रटने से काम नहीं चलेगा; मैथ्स, केमिस्ट्री, फिजिक्स को जीना होगा, कॉन्सेप्ट क्लियर होने पर सफलता

JEE मेन में शॉर्टकट नहीं चलता:मैथ्स की चार स्टेप में प्लानिंग करें; कठिन सवाल में न उलझें, NTA abbhyas QUSEYION से तैयारी करें

एक्सपर्ट से जानिए कैसे पाएं NEET में सक्सेस:बायो में फुल मार्क्स लाने का फॉर्मूला; एनसीईआरटी में बोल्ड और हाई लाइट वर्ड से ही बनते हैं अधिकांश प्रश्न

कॉम्पिटिटिव एग्जाम के लिए 4 बातें जरूरी:एग्जाम और सब्जेक्ट क्या है, किस तरह के सवाल आते हैं; पहले से टारगेट तय करना जरूरी

एग्जाम के पहले 3 बातों का ध्यान रखें:तनाव के साथ ही 10 से 12 मिनट खराब होने से बचते हैं; रिजल्ट भी 15% से 20% बेहतर होगा

NEET में फिजिक्स में अच्छे स्कोर का मंत्र:पेपर में 67% सरल सवालों पर फोकस कर 100 मार्क्स हासिल कर सकते हैं; इतना ही करना काफी

खबरें और भी हैं…



Source link