ऐसे कभी ना पहनें Underwear, खतरनाक इंफेक्शन का बढ़ जाता है खतरा, जानें बचाव का तरीका

0
20


अंडरवियर और अंडरगार्मेंट पहनना ऐसा काम है, जो हर कोई हर दिन करता है. लेकिन क्या आपको पता है कि ये आम-सा दिखने वाला काम आपकी सेहत पर बड़ा असर डाल सकता है. जी हां, स्किन एक्सपर्ट Elle Macleman ने बताया है कि अगर आप अंडरवियर पहनते हुए एक गलती करते हैं, तो आपको कई सारे स्किन इंफेक्शन विकसित होने का खतरा हो सकता है. आइए जानते हैं कि अंडरवियर या अंडरगार्मेंट से जुड़ी वो गलती क्या है?

ये भी पढ़ें: सावधान: सिर्फ बुजुर्गों में ही नहीं, 16 साल से कम उम्र के बच्चों को भी हो सकती है हड्डियों की ये खतरनाक बीमारी

अंडरगार्मेंट्स या अंडरवियर ऐसे पहनने से है इंफेक्शन का खतरा
डेलीमेल के मुताबिक, स्किनकेयर बायोकेमिस्ट Elle Macleman ने कहा है कि अगर आप नये अंडरगार्मेंट या अंडरवियर को बिना धोए पहन लेते हैं, तो आपको कई स्किन इंफेक्शन हो सकते हैं. ये स्किन इंफेक्शन इतने खतरनाक होते हैं कि आपके जननांग पर काफी बुरा असर डाल सकते हैं. स्किन एक्सपर्ट के मुताबिक, बिना धोए नये अंडरगार्मेंट्स पहनने के कारण आपकी त्वचा डाई और फंगस के सीधे संपर्क में आ सकती है, जिससे आपको कॉन्टेक्ट डर्माटाइटिस, इर्रिटेंट डर्माटाइटिस व अन्य जननांग रोग होने का खतरा बढ़ जाता है.

बैक्टीरिया इंफेक्शन का खतरा
बिना धुला नया अंडरवियर पहनने से आपको फंगल व बैक्टीरियल इंफेक्शन का खतरा हो सकता है. ये बैक्टीरिया व फंगस बाजार में या पैकिंग के दौरान लगे केमिकल के कारण अंडरवियर पर विकसित हो सकते हैं. महिलाओं में यह गलती Vulvitis की समस्या भी पैदा कर सकती है.

ये भी पढ़ें: Black Hair Colour: मेहंदी में मिलाकर लगाएं ये खास चीज, लंबे समय तक बाल नहीं होंगे सफेद

ब्रेस्ट में सूजन का खतरा
स्किन एक्सपर्ट के मुताबिक, अगर महिलाएं बिना धोए नयी ब्रा को पहन लेती हैं, तो उसपर स्टोर स्टाफ या ग्राहकों के हाथों से आए बैक्टीरिया के कारण ब्रेस्ट में सूजन (mastitis) की समस्या हो सकती है. यह समस्या उन महिलाओं के लिए ज्यादा तकलीफदायक हो सकती है, जो कि ब्रेस्टफीडिंग करवा रही हैं.

नयी कमीज और पैंट से हो सकता है ऐसा इंफेक्शन
नयी कमीज और पैंट पर अक्सर डाई लगी होती है, जिससे त्वचा के सीधे संपर्क में आने से रैशेज और इर्रिटेशन की दिक्कत पैदा हो सकती है. इसलिए स्किन एक्सपर्ट पहनने से पहले नयी कमीज और पैंट को धोने की सलाह देती हैं.

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ शिक्षित करने के उद्देश्य से दी जा रही है.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here