कार की विंडशील्ड को फॉग से कैसे करें प्रोटेक्ट? यहां देख लीजिए कुछ आसान टिप्स – kaam ki baat tips and tricks how to defog your car windshield car care auto news in hindi – News18 हिंदी

0
20


हाइलाइट्स

कार के केबिन के अंदर एसी का तापमान बढ़ा सकते हैं.
खिड़कियां खोलकर फॉग को कम किया जा सकता है.
एसी को डीह्यूमिडिफायर के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं.

नई दिल्ली. मौसम चाहे सर्दियों का हो या बरसात का कार के शीशे पर कोहरा या फॉग जमना बहुत आम बात है. कोहरे से बाहर देखने में परेशानी होती है. इस वजह से कई बार हादसे भी हो जाते हैं. विंडशील्ड पर फॉगिंग का कारण कार के अंदर और बाहर नमी और तापमान के बीच का अंतर है. ठंडे कांच के अलावा, बाहरी तापमान का आंतरिक तापमान के साथ संपर्क भी विंडशील्ड पर फॉगिंग का कारण बनता है. जब भी बाहर की हवा कार के विंडशील्ड के संपर्क में आती है, तो यह भाप बनाती है, जिससे फॉग जमना शुरू हो जाता है.

अगर कार के अंदर AC चालू है, तो केबिन और बाहर के तापमान के बीच का अंतर ज्यादा हो जाता है और फॉगिंग ज्यादा हो जाती है. कार के एसी के इस्तेमाल से इस समस्या का समाधान किया जा सकता है. कार के एसी और अन्य तरीकों का उपयोग करके अपनी कार विंडशील्ड को डिफॉग करने के लिए यहां कुछ सिंपल टिप्स बताने जा रहे हैं.

ये भी पढ़ें- e-स्कूटरों में अब नहीं होगा आग लगने का खतरा, सेफ बैटरियों से लैस हैं ये टू-व्हीलर

AC का तापमान बढ़ाएं
कार के केबिन के अंदर एसी का तापमान बढ़ाना विंडशील्ड को डिफॉग करने का एक तरीका है. इससे केबिन के अंदर गर्म हवा चलती है और विंडशील्ड से टकराती है, जिससे उसका तापमान बढ़ जाता है. यह कार के हीटर और विंडशील्ड के तल पर डिफॉगिंग वेंट्स का उपयोग करके किया जा सकता है. यह विशेष रूप से मानसून के दौरान आर्द्र जलवायु परिस्थितियों में फॉग हटाने का अच्छा तरीका है.

ये भी पढ़ें-  इस सप्ताह लॉन्च होगी मर्सिडीज की सबसे सस्ती e-car, रेंज होगी 400 किमी

थोड़ी देर के लिए एक खिड़की खोल लें
अगर बाहर की नमी कार के केबिन से कम है, तो इसका मतलब है कि केबिन के अंदर नमी ज्यादा है. इस वजह से भी विंडशील्ड पर फॉग जमा होने लगता है. इसे थोड़ी देर के लिए एक या कई खिड़कियां खोलकर कम किया जा सकता है. ऐसा करने से बाहर की हवा कार के अंदर आने से और कार केबिन के अंदर ओस बिंदु को जल्दी से कम कर देगा और विंडशील्ड पर जमे फॉग को भी खत्म कर देगा.

ये भी पढ़ें- ₹10 लाख से कम में आने वाली 5 SUVs, खरीदने से पहले से देख लीजिए ये लिस्ट

डीह्यूमिडिफ़ायर के रूप में एसी का उपयोग करें
कार केबिन के अंदर एसी को डीह्यूमिडिफायर के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है. ज्यादातर कारें क्राइमेट कंट्रोल जैसे फीचर्स के साथ आती हैं. और जब आप डीफ्रॉस्ट सेटिंग्स पर स्विच करते हैं तो यह एसी सिस्टम को ऑटोमेटिक चालू हो जाता है. अगर आप केबिन के अंदर गर्म हवा चाहते हैं, तो एसी पहले अंदर की हवा को डीह्यूमिडीफाई करेगा और फिर हीटर से गर्म हवा उड़ाकर उसे गर्म करेगा. अगर आप एसी चालू करते हैं और इसे कूलिंग मोड में सेट करते हैं, तो विंडशील्ड पर ठंडी हवा की वजह से नमी खत्म हो जाएगी.

इंजन टेम्परेचर का उपयोग करें
चेक करें कि अगर इंजन का तापमान लगभग 90 डिग्री सेल्सियस है. इससे कार की विंडशील्ड जल्दी और ठीक से डिफॉग हो सकेगी. इंजन के तापमान के साथ मिलकर, एयर कंडीशनिंग सिस्टम के लिए विंडस्क्रीन को तेजी से डिफॉग करना आसान हो जाता है. इस दौरान ध्यान रखें कि फॉग को विंडशील्ड से नहीं पोंछें, क्योंकि यह कांच को गंदा और विंडशील्ड पर स्क्रैच छोड़ सकता है.

Tags: Auto News, Automobile, Car Bike News, Winter



Source link