कॉन्स्टेबल भर्ती परीक्षा का शुरू हुआ विरोध: बेरोजगार बोले- दोषियों के खिलाफ बुलडोजर चलाए सरकार

0
22



जयपुर8 घंटे पहले

दिवाकर पब्लिक स्कूल के बाहर प्रदर्शन करते बेरोजगार।

राजस्थान में प्रतियोगी परीक्षाओं को लेकर बेरोजगारों का विरोध लगातार बढ़ता जा रहा है। रीट के बाद अब कॉन्स्टेबल भर्ती परीक्षा का पेपर लीक हो गया है। 14 मई को कॉन्स्टेबल भर्ती की दूसरी पारी का पेपर आउट होने के बाद पुलिस प्रशाशन जहां परीक्षा को दोबारा करवाने की तैयारियों में जुट गया है। वहीं मंगलवार को बेरोजगारों ने झोटवाड़ा के दिवाकर स्कूल दोषियों में खिलफर करवाई की मांग की।

राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ अध्यक्ष उपेन यादव ने कहा कि प्रदेश में नकल खिलाफ कानून लाया गया है। विधानसभा में कानून लाने के बाद 12 अप्रैल को नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया गया है। ऐसे में कानून के आने के बाद कॉन्स्टेबल भर्ती परीक्षा हुई धांधली के खिलाफ सरकार को सख्त करवाई करनी चाहिए। कानून के तहत ही सरकार को अब धांधली के दोषियों को 10 साल की सजा दिलाने के साथ ही परीक्षा केंद्र पर बुलडोजर चलना चाहिए। तभी नक़ल गैंग में खौफ पैदा होने के साथ प्रदेश के बेरोजगारों को न्याय मिल सकेगा।

बता दें कि प्रतियोगी परीक्षाओं में पेपर लीक और नकल का यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी राजस्थान में रीट पटवारी, JEN, RAS भर्ती परीक्षाओं में पेपर लीक और धांधली हो चुकी है। ऐसे में अब देखना होगा राजस्थान में लगातार बढ़ते नकल गैंग के खिलाफ पुलिस और प्रशासन कब तक और क्या कार्रवाई करता हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link