क्या आप जानते हैं कितनी तरह के होते हैं इंजन ऑयल और कौन सा है आपकी गाड़ी के लिए परफेक्ट?

0
20


हाइलाइट्स

आमतौर पर बाजार में 3 तरह की इंजन ऑयल उपलब्ध है. सभी की अपनी अलग खासियत है.
इनमें सेमी-सिंथेटिक ऑयल, मिनरल ऑयल और फुली सिंथेटिक ऑयल शामिल है.
गाड़ी की सर्विसिंग करवाते समय ऑयल की जांच कर इसे जरूर बदलवाएं.

कार और बाइक की हेल्थ के लिए इंजन ऑयल बहुत जरूरी है. कुछ लोग गाड़ी की सर्विसिंग करवाने के बाद इसे चेंज करवाना भूल जाते हैं. कई बार तो लोग थोड़े से पैसे बचाने के लिए इसे बदलते ही नहीं है. मैकेनिक भी इसे नजरअंदाज कर देते हैं. क्या आपको पता है कि आपकी गाड़ी के लिए कौन सी इंजन आयल बेहतर है. इंजन की क्षमता और कई चीजों को देखने के बाद मैकेनिक यह तय करते हैं कि गाड़ी में किस कंपनी की ऑयल डालनी चाहिए.

मार्केट में अलग-अलग कंपनियों की बहुत सारी इंजन ऑयल उपलब्ध हैं. इसकी पहचान आप खुद से भी कर सकते हैं. इसके लिए आप इसे खरीदते समय कुछ चीजों को ध्यान में रख सकते हैं.

यह भी पढ़ें:Mahindra की SUVs बुक करने वालों को झटका! डिलीवरी के लिए अब ज्यादा करना पड़ सकता है इंतजार

3 तरह के होते हैं इंजन ऑयल



इंजन ऑयल की पहचान करने के लिए सबसे पहले यह जानना जरूरी है कि आखिर यह कितने तरह के होते हैं. आपको बताते चलें कि यह कुल 3 तरह के होते हैं. इनमें फुली सिंथेटिक, सेमी-सिंथेटिक और मिनरल ऑयल शामिल है. इसकी पहचान ग्रेड से कर सकते हैं. तीनों के ग्रेड में काफी अंतर होता है. आपकी गाड़ी के लिए किस ग्रेड की ऑयल सही है इसकी जांच करने के लिए आप गाड़ी की बुकलेट पढ़ सकते हैं. इसके अलावा किसी मैकेनिक किया फिर डीलर से भी जानकारी हासिल कर सकते हैं.

मिनरल इंजन ऑयल


ज्यादातर कार और बाइक में मिनरल इंजन ऑयल का इस्तेमाल होता है. इसकी सबसे बड़ी खासियत यह है कि अधिक फ्रिक्शन होने के बावजूद भी यह गर्मी को सहते हुए गाड़ी के इंजन में पर्याप्त रूप से लुब्रिकेशन और प्रोटेक्शन देने में सहायक है. सामान्य तापमान में भी यह बहुत अच्छे से काम करता है. फुली सिंथेटिक और सेमी सिंथेटिक कि अगर तुलना करें तो इस मामले में मिनरल इंजन ऑयल की कीमत बहुत कम होती है. अधिक गर्मी या फिर अधिक ठंड के मौसम में इस ऑयल का इस्तेमाल नहीं करें तो बेहतर है. 

सेमी सिंथेटिक ऑयल


अगर आपके पास ज्यादा पैसे नहीं हो और बजट में ऑयल खरीद कर गाड़ी में इस्तेमाल करना चाहते हों तो ऐसी स्थिति में सेमी सिंथेटिक एक अच्छा विकल्प साबित हो सकता है. दरअसल इसी बीच का ऑयल भी कहते हैं. मिनिरल ऑयल में थोड़ी सी सिंथेटिक ऑयल मिलाकर इसे तैयार करते हैं. इससे ऑयल की गुणवत्ता में बढ़ोतरी होती है लेकिन इसकी कीमत बहुत कम हो जाती है. कम तापमान में भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं. 

यह भी पढ़ें:इस हफ्ते लॉन्च होगी Jeep की नई SUV, देख लीजिए डिजाइन, फीचर्स और इंटीरियर

फुली-सिंथेटिक ऑयल


फुली सिंथेटिक ऑयल का इस्तेमाल ज्यादातर स्पोर्ट्स कार और बाइक में करते हैं. सबसे उच्च गुणवत्ता की ऑयल की बात करें तो इसमें फुली सिंथेटिक वाली शामिल है. इंजन में इसका इस्तेमाल करने से गाड़ी की माइलेज में कमी नहीं आती है. किसी भी तापमान में यह गाड़ी को लुब्रिकेशन प्रदान करने में सहायक है. अगर तीनों ऑयल की तुलना करें तो इसकी कीमत हमेशा ज्यादा होती है. अगर आप भी अपनी गाड़ी की हेल्प को लेकर चिंतित रहते हैं तो हमेशा फुली सिंथेटिक ऑयल ही डलवाएं.

Tags: Automobile, Car, Car Bike News



Source link