क्रिकेट आस्ट्रेलिया की बड़ी टिप्पणी, ‘3 साल पहले ही टिम पेन को कर देना चाहिए था बाहर’

0
11


नई दिल्ली: क्रिकेट आस्ट्रेलिया (सीए) के अध्यक्ष रिचर्ड फ्रायडेनस्टीन ने शनिवार को स्वीकार किया कि बोर्ड ने महिला सहकर्मी को भद्दे संदेश भेजने के मामले की शुरुआती जांच के बाद टिम पेन को टेस्ट कप्तानी से मुक्त नहीं कर के गलती की थी.

3 साल पहले ही कर देनी थी छुट्टी 

पेन ने एक महिला सहकर्मी को अपनी अश्लील तस्वीर और भद्दे मैसेज भेजने पर खेद जताते हुए शुक्रवार को कप्तानी छोड़ने का फैसला किया.  फ्रायडेनस्टीन ने सीए के मुख्य कार्यकारी अधिकारी निक हॉकले के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा कि मैं 2018 के फैसले के बारे में बात नहीं कर सकता, मैं वहां नहीं था. लेकिन मैं तथ्यों के आधार पर कह रहा हूं मैं आज के समय में बोर्ड उस तरह का फैसला नहीं करता.

उन्होंने कहा कि मैं स्वीकार करता हूं कि उस फैसले ने स्पष्ट रूप से गलत संदेश दिया कि यह व्यवहार स्वीकार्य है और इसके गंभीर परिणाम नहीं होंगे. आस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के कप्तान की भूमिका में उच्चतम मानदंड होना चाहिये.

2017 के मामले में टिम पेन ने दिया इस्तीफा 

यह मामला 2017 का है और जिसके बाद क्रिकेट आस्ट्रेलिया और क्रिकेट तस्मानिया की जांच में उन्हें क्लीन चिट मिली थी . पेन के 2018 में दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर गेंद से छेड़छाड़ के विवाद के बाद टीम का कप्तान नियुक्त किया गया था.

ये भी पढ़ें- IND vs NZ: तीसरे टी20 से बाहर हो सकते हैं रोहित शर्मा, जानें क्या है वजह

फ्रायडेनस्टीन ने कहा कि आचार संहिता (अब) उपयुक्त है, यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि समय बीतने के साथ बहुत सी चीजें बदल गई हैं. रिपोर्ट के अनुसार क्रिकेट तस्मानिया की एक महिला कर्मचारी ने दावा किया है कि पेन ने उन्हें अपनी भद्दी तस्वीर के साथ अश्लील मैसेज भेजे . उस महिला ने 2017 में ही नौकरी छोड़ दी थी 

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

 

 

 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here