जमानत की शर्तों में ढील की मांग: आर्यन खान ने बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका लगाई- केस SIT के पास है इसलिए हर शुक्रवार की हाजिरी से छूट दी जाए

0
110


3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

हर शुक्रवार सुबह 11 से 2 बजे के बीच आर्यन खान को नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के ऑफिस हाजिरी के लिए पेश होना पड़ता है। जमानत की इस शर्त को बदलवाने के लिए आर्यन ने बॉम्बे हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। याचिका में मांग की गई है कि उनकी हाजिरी वाली शर्त में छूट दी जा सकती है क्योंकि क्रूज शिप ड्रग केस NCB दिल्ली ने SIT को सौंप दिया है। आर्यन की इस याचिका पर सुनवाई 13 दिसंबर को होनी है।

मीडिया के कारण होती है परेशानी
आर्यन ने अपनी याचिका में यह भी कहा है कि जब-जब वे NCB के ऑफिस अपनी हाजिरी लगाने पहुंचते हैं। मीडिया चारों तरफ से उन्हें घेर लेता है। ऐसे में उन्हें बेहद मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। गौरतलब है कि जस्टिस नितिन साम्ब्रे की बेंच ने 28 अक्टूबर को आर्यन खान को क्रूज शिप ड्रग्स केस मामले में 14 शर्तों के साथ जमानत मिली थी।

अदालत ने ये 14 शर्तें रखीं थीं

  • आर्यन की ओर से 1 लाख का पर्सनल बॉन्ड जमा करना होगा।
  • कम से कम एक या ज्यादा जमानती देना होगा।
  • NDPS कोर्ट की अनुमति के बिना देश नहीं छोड़ सकते।
  • इन्वेस्टिगेशन ऑफिसर की अनुमति के बिना मुंबई नहीं छोड़ सकते।
  • ड्रग्स जैसी किसी एक्टिविटी में मिलने पर जमानत तुरंत रद्द कर दी जाएगी।
  • इस केस को लेकर मीडिया या सोशल मीडिया में कोई बयान नहीं देना है।
  • हर शुक्रवार को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के ऑफिस में सुबह 11 से दोपहर 2 बजे के बीच आना होगा।
  • केस की तय तारीखों पर अदालत में मौजूद होना होगा।
  • किसी भी समय पर बुलाए जाने पर एनसीबी ऑफिस जाना होगा।
  • मामले के दूसरे आरोपियों या व्यक्ति से संपर्क या बातचीत नहीं करेंगे।
  • एक बार ट्रायल शुरू होने के बाद इसमें किसी तरह की देरी नहीं करेंगे।
  • आरोपी ऐसा कोई काम नहीं करेंगे जो कोर्ट की कार्यवाही या आदेशों पर विपरीत असर डालती हो।
  • आरोपी निजी तौर पर या फिर किसी और से गवाहों को धमकाने, प्रभावित करने या सबूतों से छेड़छाड़ का प्रयास नहीं करेगा।
  • अगर आवेदक/आरोपी इनमें से कोई भी नियम तोड़ता है तो NCB के पास यह अधिकार है कि वह उसकी जमानत अर्जी खारिज करने के लिए अदालत का रुख कर सकती है।

आर्यन न देश छोड़ सकते न शहर
अदालत ने जमानत के लिए जो कंडीशन लगाई हैं उनके मुताबिक, आर्यन बिना इजाजत देश नहीं छोड़ सकते। उन्होंने अपना पासपोर्ट NDPS अदालत को सौंप दिया है। आर्यन हर शुक्रवार को NCB ऑफिस जाकर हाजिरी भी दे रहे हैं, इसलिए वे इसी शर्त में छूट की मांग कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link