डायबिटीज की शुरुआत में पैरों में होने लगते हैं ऐसे बदलाव, तुरंत करें चेक

0
80


डायबिटीज (Diabetes) एक साइलेंट किलर है। जिसे हिंदी में मधुमेह कहा जाता है। यह धीरे-धीरे शरीर को भीतर से इतना कमजोर और खोखला बना देती है कि मधुमेह रोगी की जान को खतरा हो सकता है। आमतौर पर, मधुमेह की समस्या बुजुर्ग लोगों में देखने को मिलती है। मगर, खराब लाइफस्टाइल और देखभाल में कमी के कारण आजकल युवा और बच्चे भी इसके शिकार आसानी से बन रहे हैं। डायबिटीज का कारण शरीर में ब्लड शुगर का स्तर नियंत्रित होना है और जब ऐसा होता है, तो आपका शरीर मधुमेह के लक्षण दिखाने लगता है। शरीर में ब्लड शुगर का स्तर अनियंत्रित होने पर पैरों में कुछ बदलाव होने लगते हैं। अगर आपके पैरों में भी इनमें से कुछ लक्षण दिख रहे हैं, तो तुरंत अपना ब्लड शुगर टेस्ट करवाएं। शुरुआत में ही इस बीमारी को पहचान लेने से जल्दी से इसे कंट्रोल करना आसान हो जाता है।

ये भी पढ़ें: पॉजिटिव लोग कभी नहीं करते ये काम, इनमें से कितने गुण हैं आपके अंदर?

पैरों में दिखने वाले मधुमेह के लक्षण : Symptoms of Diabetes in Hindi
शुरुआत में ही मधुमेह की पहचान करने के लिए पैरों में दिखने वाले डायबिटीज के लक्षण इस प्रकार हो सकते हैं। जैसे-

डायबिटीज के लक्षण: पैरों में घाव या जख्म होना
अगर आपके पैरों में अपने आप घाव या जख्म हो रहे हैं या फिर छोटी-सी चोट बड़े जख्म या घाव का रूप ले रही है, तो आपको सतर्क हो जाना चाहिए। हेल्थ एक्सपर्ट के मुताबिक ब्लड शुगर बढ़ने पर बैक्टीरिया का स्तर बढ़ने लगता है और पैरों तक पर्याप्त रक्त प्रवाह नहीं हो पाता। इसी वजह से उन्हें इंफेक्शन होने लगता है और घाव जैसा हो जाता है।

मधुमेह रोगी के पैरों में जलन होना
डायबिटीज में आपके पैरों में जलन हो सकती है। जिसके पीछे मधुमेह के कारण होने वाले यीस्ट इंफेक्शन, ड्राई स्किन व बेकार ब्लड फ्लो की समस्या हो सकती है। खराब ब्लड फ्लो के कारण अक्सर पैरों के नीचे की तरफ जलन होने लगती है। तो अगर आपके पैरों में भी ऐसी जलन हो रही है, तो सतर्क हो जाएं।

ये भी पढ़ें: क्या आप खुश नहीं हैं? तो इसके जिम्मेदार आप खुद हो सकते हैं, जानें कैसे

पैरों में सूजन
पैरों में सूजन होना मधुमेह का आम लक्षण हो सकता है। जब अधिकतर समय आपके पैरों में सूजन रहने लगे, तो आपको समझ जाना चाहिए कि आपको डायबिटीज की समस्या हो सकती है और तुरंत ब्लड शुगर की जांच करवानी चाहिए। क्योंकि ब्लड शुगर का स्तर ज्यादा होने पर शरीर के विभिन्न हिस्सों में ब्लड सप्लाई बाधित हो जाती है, जिसके कारण पैरों में सूजन आ जाती है।

मधुमेह का लक्षण: पैरों का सुन्न होना
शरीर में रक्त शर्करा यानी ब्लड शुगर का स्तर अत्यधिक होने पर शरीर की नसें क्षतिग्रस्त होनी शुरू हो जाती हैं। क्षतिग्रस्त होने पर नसें कमजोर होने लगती हैं और संवेदनाएं कम हो जाती है। इसी कारण मधुमेह रोगियों को अक्सर पैरों के सुन्न होने की समस्या होती रहती है। इसके साथ दर्द व चुभने जैसा भी महसूस हो सकता है।

यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं पर आधारित है। इसका हम दावा नहीं करते।





Source link