डॉक्टर नहीं अब ‘रोबोट’ करेंगे ऑपरेशन, जानिए भारत के सबसे सस्ते रोबोटिक सर्जरी सिस्टम के बारे में…

0
28


नई दिल्ली: आज के दौर में टेक्नोलॉजी इतनी आगे निकल चुकी है, जिसकी कल्पना नहीं की जा सकती है. इस  टेक्नोलॉजी का बेहतरीन इस्तेमाल रोबोटिक्स में भी हो रहा है. इंसान द्वारा विकसिट रोबोट अब दुनिया के अधिकतर काम करने लगे हैं. न्यूज एंकरिंग से लेकर सफाई और गोदाम में सामान की शिफ्टिंग तक का काम अब रोबोट आसानी से कर रहे हैं. आपको जानकर हैरानी होगी कि रोबोट अब डॉक्टर भी बन गए हैं और बाकायदा बड़े-से-बड़े ऑपरेशन भी कर रहे हैं. 

भारत में भी रोबोटिक्स सर्जरी की शुरूआत हो चुकी है, जिससे कुछ रोगियों को फायदा मिल रहा है, लेकिन अत्यधिक महंगी होने की वजह से सर्जरी की यह तकनीकि काफी लोगों की पहुंच से अभी भी दूर है और भारत में इसका प्रयोग बहुत ही कम रहा है, लेकिन अब भारत में इस कमी को पूरा करने के लिए गुड़गांव की एसएस इनोवेशन नाम की कंपनी ने कमर कसी है. 

गुड़ंगाव की एक कंपनी ने रोबोटिक सिस्टम तैयार किया है.  कंपनी का दावा है कि यह भारत का सबसे सस्ता रोबोटिक सर्जरी सिस्टम है और इस साल के अंत तक पूरे देश में इस सर्जरी सिस्टम के 100 यूनिट लगने वाले हैं.

दिल्ली के राजीव गांधी कैंसर संस्थान में किया गया ट्रायल
डॉक्टर सुधीर का दावा है कि उन्होंने बहुत ही कम लागत में यह तकनीकि शुरूआत की है. उनका मानना है कि रोबोटिक्स सर्जरी का भविष्य बेहद ही उज्जवल है. उन्होंने कहा है कि परंपरागत सर्जरी की अपेक्षा रोबोटिक सर्जरी में किसी मरीज के शरीर में बड़े चीरे नहीं लगाए जाते हैं. रोबोटिक सर्जरी के बाद मरीज को दर्द का अहसास भी बहुत कम होता है और वह बहुत जल्दी ठीक भी हो जाता है. रोबोटिक सिस्टम का पहली बार इस्तेमाल हाल ही में दिल्ली के राजीव गांधी कैंसर संस्थान में किया गया. 

इन ऑपरेशन में किया जा सकता है इस्तेमाल
इस रोबोटिक सिस्टम का इस्तेमाल यूरोलॉजी, जनरल सर्जरी, गायनोकोलॉजी, थोरैसिक, कॉर्डिएक, सिर और गर्दन समेत तमाम बड़े ऑपरेशन में किया जा सकता है. 

17 करोड़ का यूनिट केवल 5 करोड़ में
रोबोटिक सिस्टम को इसलिए सबसे सस्ता सिस्टम कहा जा रहा है, क्योंकि इसके एक रो यूनिट की कीमत 4-5 करोड़ है, जबकि ग्लोबल सर्जिकल रोबोटिक सिस्टम की एक यूनिट की कीमत 15-17 करोड़ है. भारत में इस वक्त केवल 70-80 रोबोटिक्स यूनिट्स हैं, जो कि कई अन्य देशों के मुकाबले काफी कम हैं.

रोबोटिक सर्जरी क्या है? 
रोबोटिक सर्जरी, कंप्यूटर-समर्थित सर्जरी और रोबोट-समर्थित सर्जरी, उन विभिन्न तकनीकी विकासों के लिए शब्दावली है, जिन्हें वर्तमान में विभिन्न प्रकार की शल्य चिकित्सा प्रक्रियाओं की सहायता के लिए विकसित किया गया है. 

रोबोटिक सर्जरी कैसे होती है? 
छोटे-छोटे चीरों के माध्यम से आपके शरीर के अंदर एक छोटा 3D कैमरा और छोटे सिक्के के आकार का उपकरण डाला जाता है. यह कैमरा आपके सर्जन को ऑपरेशन करने वाली जगह का एक बड़ा 360 डिग्री दृश्य देता है. कंसोल के हाथों और पैरों के नियंत्रण का उपयोग करके, आपका सर्जन दूर से सर्जिकल साधनों से जुड़े रोबोटिक हाथों को हिलाता है.

रोबोटिक सर्जरी से क्या फायदा है?

यह पूरी तरह से कम्प्यूटर असिस्टेड सर्जरी है. इसमें एक मशीन ऑपरेशन करती है, जिसे विशेषज्ञ नियंत्रित करते हैं. इसमें उपकरण को 360 डिग्री और सातों दिशाओं में आसानी से घुमा सकते हैं. साथ ही रोगग्रस्त अंग या जिस भाग की सर्जरी की जा रही है उसे कितना भी जूम करके देख सकते हैं. इससे जटिलताओं की आशंका घट जाती है. सर्जन को थकान और मरीज के शरीर से अधिक ब्लीडिंग का खतरा भी कम होता है. 

बॉडी में Vitamin C कम होने पर हो सकती हैं ये 2 गंभीर बीमारियां, ये लक्षण दिखते ही तुरंत खाना शुरू कर दें ये 5 फूड्स

Disclaimer:
इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है. हालांकि इसकी नैतिक जिम्मेदारी ज़ी न्यूज़ हिन्दी की नहीं है. हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें. हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here