थलपति विजय ने पैरेंट्स को कोर्ट में घसीटा: एक्टर की कोर्ट से अपील- मेरे नाम का इस्तेमाल कर कोई भीड़ इकट्‌ठा न करे, मीटिंग भी न बुलाए

0
24


एक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

मास्टर के लीड एक्टर और दक्षिण के सुपर स्टार विजय ने 11 लोगों के खिलाफ कोर्ट में केस फाइल किया है। इन 11 लोगों में उनके पिता और माता भी शामिल हैं। विजय ने कोर्ट से अपील की है कि कोई भी उनके नाम का इस्तेमाल भीड़ इकट्‌ठा करने के लिए न कर पाए। विजय की लेटेस्ट फिल्म मास्टर रिलीज हुई है। इसमें उनके साथ विजय सेतुपथि ने भी काम किया है। इस फिल्म को बॉक्स ऑफिस पर काफी सफलता मिली है।

राजनीति को लेकर परिवार में कलह
विजय ने अपनी याचिका में कहा है- पिता एसए चंद्रशेखर, मां शोबा समेत 11 लोग मेरे नाम का इस्तेमाल किसी सभा के आयोजन या भीड़ जुटाने के लिए न कर सकें। ये विवाद तब शुरू हुआ, जब विजय के पिता ने कहा कि एक्टर राजनीति में आने वाले हैं और अपने नाम पर एक राजनीतिक पार्टी भी रजिस्टर कराएंगे। विजय के पिता ने अपने एक रिश्तेदार पद्मनाभन को इस पार्टी का प्रेसिडेंट, पत्नी शोबा को कोषाध्यक्ष भी घोषित कर दिया। विजय के पिता ने बताया कि इस पार्टी के महासचिव वे हैं। कोर्ट इस मामले की सुनवाई 27 सितंबर को करेगी।

लग्जरी गाड़ी का टैक्स भरने को लेकर सुर्खियों में थे विजय
हाल में ही विजय ने मद्रास हाईकोर्ट में अपनी लग्जरी इम्पोर्टेड कार रोल्स रॉयस घोस्ट पर एंट्री टैक्स लगाने का विरोध किया था। इस पर अदालत ने कहा कि जिन्हें लोग रियल हीरो मानते हैं, वो महज फिल्मी हीरो नहीं रह सकते। अदालत ने कहा- ऐसे सम्मानित एक्टर से उम्मीद की जाती है कि वो टैक्स का समय पर और सही तरह से भुगतान करे। ऐसे एक्टर जिन्हें फैंस रियल हीरो के तौर पर देखते हैं, वो महज फिल्मी नहीं रह सकते हैं।

विजय ने इंग्लैंड से ये कार 2012 में मंगवाई थी। इस पर मद्रास हाई कोर्ट के जस्टिस एसएम सुब्रमण्यम ने कहा कि तमिलनाडु जैसा प्रदेश जहां एक्टर शासक बन जाते हैं, वहां पर अभिनेताओं से ये उम्मीद नहीं की जा सकती है कि वे महज फिल्मी हीरो जैसा व्यवहार करें। टैक्स न चुकाने को राष्ट्र विरोधी आदत माना जाता है और यह असंवैधानिक है। अदालत ने विजय को आदेश दिया कि जुर्माने की रकम मुख्यमंत्री कोष में जमा कराने के आदेश दिए थे।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here