देश की GDP में Youtube का बंपर योगदान, आंकड़े जानकर नहीं होगा यकीन

0
20


Youtube GDP: ऑनलाइन वीडियो मंच यूट्यूब से जुड़े पारिस्थितिकी तंत्र ने भारत के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में 10,000 करोड़ रुपये का योगदान देने के साथ करीब 7.5 लाख पूर्णकालिक-समकक्ष रोजगार को भी समर्थन दिया है. एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है.

रिपोर्ट में क्या कहा गया?

‘ऑक्सफोर्ड इकोनॉमिक्स’ के विश्लेषण पर आधारित ‘यूट्यूब प्रभाव’ रिपोर्ट में कहा गया है, भारत में 4,500 से अधिक यूट्यूब चैनलों के 10 लाख से अधिक ग्राहक थे और भारत में एक लाख रुपये से अधिक का सालाना राजस्व कमा रहे चैनलों की संख्या सालाना आधार पर वर्ष 2021 में 60 प्रतिशत से अधिक बढ़ गई.

रिपोर्ट के मुताबिक, यूट्यूब की रचनात्मक पारिस्थितिकी ने वर्ष 2021 में देश की जीडीपी में 10,000 करोड़ रुपये से अधिक का योगदान दिया और भारतीय अर्थव्यवस्था में 7,50,000 से अधिक पूर्णकालिक नौकरियों का समर्थन किया. इसका आर्थिक प्रभाव प्रत्यक्ष, अप्रत्यक्ष, प्रेरित और उत्प्रेरक प्रभाव यानी चार तरीकों से दिखाई देता है.

यूट्यूब ने एक ब्लॉग में कहा, यूट्यूब ने 2021 में सिर्फ स्वास्थ्य स्थिति वाले वीडियो को 30 अरब से अधिक दर्शक मिले. इसे देखते हुए स्वास्थ्य सेवा संस्थानों- नारायण हेल्थ, मणिपाल हॉस्पिटल्स, मेदांता और शाल्बी मल्टी-स्पेशियलिटी हॉस्पिटल्स को जोड़ने का फैसला किया गया है.ऑक्सफोर्ड इकोनॉमिक्स ने यूट्यूब के प्रभाव का आकलन करने के लिए 4,021 यूट्यूब उपयोगकर्ताओं, 5,633 सृजनकर्ताओं और 523 व्यवसायों का सर्वेक्षण किया.

पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi – अब किसी और की ज़रूरत नहीं. 





Source link