बजट पर कल से शुरू होगा मंथन, वित्त मंत्री कृषि विशेषज्ञों के साथ करेंगी बैठक

0
129


नई दिल्ली. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण कोरोना महामारी से प्रभावित खपत को फिर से बढ़ावा देने के उपायों पर उद्योग संघों, किसान संगठनों और अर्थशास्त्रियों समेत स्टेक होल्डर्स से विचार-विमर्श करेंगी.

क्या कहते हैं साल के आंकड़े

चालू वित्त वर्ष 2021-22 में आर्थिक वृद्धि दर 10 प्रतिशत से ज्यादा रहने की उम्मीद है. भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने अपनी ताजा द्विमासिक मौद्रिक समीक्षा में 2021-22 में सकल घरेलू उत्पाद (GDP) की वृद्धि दर 9.5 प्रतिशत रहने का अनुमान जताया है. सरकार का अनुमान है कि राजकोषीय घाटा GDP का 6.8 प्रतिशत रह सकता है.

वित्त मंत्रालय का आधिकारिक ट्वीट

वित्त मंत्रालय ने ट्वीट कर जानकारी दी, ‘वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आम बजट 2022-23 के मद्देनजर कल 15 दिसंबर, 2021 से नई दिल्ली में विभिन्न स्टेक होल्डर्स के समूहों के साथ बजट पूर्व विचार-विमर्श शुरू करेंगी. ये बैठकें डिजिटल तरीके से होंगी.’

ये भी पढ़ें : फटाफट शुरू करें बंपर मुनाफे वाला बिजनेस! सरकार देगी सब्सिडी; हर महीने लाखों का फायदा

बजट से क्या है उम्मीद

आम बजट एक फरवरी को पेश होने की उम्मीद है. एक अन्य ट्वीट में कहा गया, ‘वित्त मंत्री अपनी पहली बजट-पूर्व मंत्रणा कृषि और कृषि प्रसंस्करण उद्योग के विशेषज्ञों के साथ कल दोपहर को करेंगी.’ अगले साल की बजट मांग बढ़ाने, नौकरियों के सृजन और अर्थव्यवस्था को आठ प्रतिशत की वृद्धि दर की राह पर ले जाने जैसे उपायों पर केंद्रित रहने की उम्मीद जताई जा रही है.

LIVE TV





Source link