राजनीति का साइडइफेक्ट: सोनू सूद अब चुनाव आयोग के आईकॉन नहीं; बहन के चुनाव लड़ने के ऐलान के बाद बॉलीवुड स्टार से पल्ला झाड़ा

0
83


  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Sonu Sood Is No Longer An Icon Of The Election Commission; Bollywood Star Shunned After Sister Contested Elections

चंडीगढ़5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

बॉलीवुड स्टार अब चुनाव आयोग के वोटिंग ऑईकॉन नहीं होंगे। चुनाव आयोग ने उनकी नियुक्ति को रद्द कर दिया है। सोनू सूद को मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए पंजाब का स्टेट आईकॉन नियुक्त किया गया था। पंजाब के मुख्य चुनाव अफसर डॉ. एस. करुणा राजू ने कहा कि 4 जनवरी 2022 के बाद वह इस नियुक्ति पर नहीं हैं।

सोनू सूद की बहन मालविका सूद सच्चर इस बार चुनाव लड़ने वाली हैं। इसकी घोषणा सोनू सूद ने ही मोगा में की थी। मालविका मोगा से चुनाव लड़ेंगी। हालांकि वह किसी राजनीतिक दल से नहीं जुड़े हैं लेकिन राजनीति में आने की घोषणा के बाद चुनाव आयोग ने यह कदम उठाया है।

सोनू सूद ने मोगा से बहन के चुनाव लड़ने का ऐलान किया

सोनू सूद ने मोगा से बहन के चुनाव लड़ने का ऐलान किया

हर पार्टी के नेता से मिल चुके सोनू सूद

बॉलीवुड स्टार लगातार राजनीति में आने को लेकर दिलचस्पी दिखा रहे हैं। इस संबंध में पहले वह दिल्ली में आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल से मिले। फिर उन्होंने चंडीगढ़ में पंजाब की कांग्रेस सरकार के CM चरणजीत चन्नी से मुलाकात की। फिर वह अकाली दल प्रधान सुखबीर बादल से मिले। इससे पहले वह CM रहते कैप्टन अमरिंदर सिंह से मिल चुके हैं। इस वजह से चुनाव आयोग को सोनू सूद से पल्ला झाड़ना पड़ा।

सोनू सूद बहन के लिए प्रचार भी कर रहे हैं

सोनू सूद बहन के लिए प्रचार भी कर रहे हैं

जल्द कोई पार्टी जॉइन कर सकती हैं मालविका

सोनू सूद खुद तो सक्रिय सियासत में नहीं आ रहे लेकिन बहन मालविका के लिए लगातार प्रचार कर रहे हैं। वह बहन के लिए वोट भी मांग रहे हैं। इससे कयास लगाए जा रहे हैं कि सूद की बहन जल्द कोई राजनीतिक पार्टी जॉइन कर सकती हैं। 5 जनवरी को पंजाब में अंतिम वोटर सूची प्रकाशित होनी है। इसलिए एक दिन पहले चुनाव आयोग उनसे किनारा कर लेगा।

खबरें और भी हैं…



Source link