रात में सोते वक्त घुट सकता है आपका दम, सर्द रातों में गलती से भी ना करें ये काम

0
16


उत्तर भारत के सभी राज्यों में कड़ाके की ठंड जारी है. पहाड़ों में बर्फबारी से कई बड़े शहरों में न्यूनतम तापमान सिंगल डिजिट में पहुंच गया है. राजधानी दिल्ली में न्यूनतम तापमान 3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. रात में ठिठुरन बढ़ते ही लोग तरह-तरह के जतन करने लगते हैं. कुछ लोग तो रूम हीटर, ब्लोअर या अंगीठी का उपयोग करते हैं. हालांकि क्या आपको पता है कि ये आपके शरीर के लिए काफी नुकसानदायक साबित हो सकता है. रातभर रूम हीट या अंगीठी जलाकर रखने आपकी जान भी जा सकती है. आइए जानते हैं कि सर्द रातों में क्या-क्या गलतियां नहीं करनी चाहिए.

रूम हीटर का ज्यादा इस्तेमाल
रूम हीटर आपको भले ही सर्दी से राहत दिला देता हो, लेकिन इसके ज्यादा इस्तेमाल से एलर्जी की समस्या हो सकती है. यह आपकी स्किन, आंखों और बालों के लिए बेहद खतरनाक साबित हो सकता है. रातभर रूम हीटर जलाकर रखे से कमरे में कार्बन मोनोऑक्साइड का लेवल बढ़ जाता है, जिससे आपका दम घुटने लगता है. अक्सर आपने सुना होगा या न्यूज में देखा होगा कि रातभर कमरे में रूम हीटर या अंगीठी जलाकर सोने से लोगों की जान चली गई है.

कमजोर इम्यून सिस्टम
सर्द रातों में जब आप रातभर हीटर जलाकर रखते हैं तो कमरे का तापमान बढ़ जाता है और जब आप बाहर जाते हैं तो आपको कम तापमान का सामना करना पड़ता है. ऐसे में बार-बार तापमान बदलने से शरीर का इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाता है और आप बीमार पड़ सकते हैं.

एलर्जी और ड्राई स्किन
रातभर रूम हीटर जलाकर रखने से कमरे में मोनोऑक्साइड का स्तर काफी ज्यादा बढ़ जाता है, जिससे सोते वक्त आपका दम घुट सकता है. इसके कारण आपको अस्थमा, एलर्जी, गला खराब होने जैसी कई स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं. जो भी लोग खांसी, अस्थमा, ब्रोंकाइटिस जैसी समस्या से जूझ रहे हैं, उन्हें बंद कमरे में रूम हीटर या ब्लोअर का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. इसके अलावा, रूम हीटर के सामने ज्यादा देर बैठने से नमी और कम हो जाती है, जो अक्सर सर्दियों में कम रहती है. ड्राई स्किन के कारण खुजली, इरिटेशन जैसी समस्याएं हो सकती हैं.

सर्द रातों में क्या कर सकते हैं?
अगर हो सके तो रूम हीटर, ब्लोअर या अंगीठी का उपयोग ज्यादा ना करें. अगर फिर भी आपको रूम में इन सबका इस्तेमाल करते हैं तो कमरे में एक बाल्टी पानी जरूर रख लें. इससे हवा में नमी रहेगी. इसके साथ ही खूब पानी पिएं, ताकि डिहाइड्रेशन की समस्या ना हो. इसके साथ ही इस बात का जरूर ध्यान रखें कि बंद कमरे में हीटर का इस्तेमाल बिल्कुल भी ना करें.

Disclaimer: इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है. हालांकि इसकी नैतिक जिम्मेदारी ज़ी न्यूज़ हिन्दी की नहीं है. हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें. हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है.





Source link