शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने पर दिखते हैं ये लक्षण, तुरंत खाना छोड़ दें ये चीजें वरना होंगे बड़े नुकसान

0
47


Uric Acid Symptoms: खराब लाइफस्टाइल और खान-पान की वजह से पनपने वाली बीमारियों में यूरिक एसिड भी शामिल है. हेल्थ एक्सपर्ट्स कहते हैं कि यूरिक एसिड शरीर में खून के जरिए किडनी तक पहुंचता है और यूरीन के जरिए शरीर से बाहर निकल जाता है. कुछ मामलों में यूरिक एसिड शरीर से बाहर नहीं निकल पाता तो शरीर में इसकी मात्रा अधिक होने से कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है.

यूरिक एसिड क्या है?
Medline plus कहता है कि यूरिक एसिड रक्त में पाया जाने वाला एक रसायन है. ये तब बनता है जब शरीर में प्यूरीन नामक पदार्थ टूटता है. शरीर में बनने वाले अधिकांश यूरिक एसिड रक्त में घुल जाते हैं और गुर्दे के माध्यम से बाहर निकल जाते हैं. जब यूरिक एसिड शरीर से बाहर नहीं निकल पाता तो गठिया रोग, जोड़ों में दर्द, गाउट और सूजन जैसी बीमारियां परेशान करती हैं. 

कैसे बनता है यूरिक एसिड? 
यूरिक एसिड कार्बन,हाईड्रोजन, ऑक्सीजन, और नाइट्रोजन जैसे तत्वों से मिलकर बना होता है. ये बॉडी को प्रोटीन से अमीनो एसिड के रूप में प्राप्त होता है. यूरिया यूरिक एसिड में परिवर्तित होकर हड्डियों के बीच में जमा हो जाता है. हड्डियों में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ने से गाउट हो जाता है, जो एक तरह का गठिया रोग ही होता है। इस परेशानी की वजह से जोड़ों में दर्द की शिकायत होती है. 

यूरिक एसिड बढ़ने के लक्षण

एक्सपर्ट्स कहते हैं कि शुरुआत में Uric Acid के बढ़ने का पता नहीं लग पाता. ज्यादातर लोगों को इस बात की जानकारी भी नहीं होती कि यूरिक एसिड के बढ़ने को कैसे पहचानें. हालांकि कुछ ऐसे लक्षण हैं, जिन्हें देखकर आप इसके बढ़ने की पहचान कर सकते हैं. 

  1. जोड़ों में दर्द होना.
  2. उठने-बैठने में परेशानी होना.
  3. उंगलियों में सूजन आना
  4. जोड़ों में गांठ की शिकायत 
  5. उंगलियों में चुभन वाला दर्द

यूरिक एसिड को बढ़ाने वाले फूड्स

1. दही, पालक और ड्राई फ्रूट्स

ड्राई फ्रूट्स, दही, चावल, दाल और पालक में प्रोटीन की मात्रा ज्यादा होती है, जो यूरिक एसिड को बढ़ा देता हैं. 

2. दूध-चावल
यूरिक एसिड बढ़ने के लक्षण दिखें तो रात को सोने से पहले दूध या चावल का सेवन करने से परहेज करें. क्योंकि रात के वक्त इन चीजो के सेवन से बॉडी में यूरिक एसिड जमा होने लगता है. 

3. छिलके वाली दाल 
यूरिक एसिड बढ़ने पर आप छिलके वाली दाल के सेवन से परहेज करें. क्योंकि दालों में छिलके वाली दाल यूरिक एसिड का स्तर बढ़ा सकती है.

4. मीट, अंडा और मछली का सेवन
बढ़ते यूरिक एसिड को कंट्रोल करने के लिए आपको अंडा, मीट और मछली का सेवन बंद कर देना चाहिए. 

5. नियम के अनुसार पीएं पानी
यूरिक एसिड को कंट्रोल करने के लिए आपको नियम के तहत ही पानी पीना चाहिए. खाना खाते समय पानी का सेवन नहीं करें, खाना खाने के एक घंटे या डेढ़ घंटे बाद पानी का सेवन करें. 

Disclaimer
इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है. हालांकि इसकी नैतिक जिम्मेदारी ज़ी न्यूज़ हिन्दी की नहीं है. हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें. हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है.

WATCH LIVE TV





Source link