शरीर में Iron Deficiency हो जाए तो हो सकती है ये गंभीर बीमारियां, इन संकेतों से करें पहचान

0
63


नई दिल्ली: शरीर को हर एक विटामिन, मिनरल्स और न्यूट्रिएंट्स (Nutrients) की बराबर मात्रा में जरूरत होती है ताकि हमारी सेहत बनी रहे. ऐसा ही एक बेहद जरूरी मिनरल है आयरन (Iron) जो लाल रक्त कोशिकाओं (Red Blood Cells) में मौजूद प्रोटीन हीमोग्लोबिन को बनाने में मदद करता है जिससे शरीर के हर एक अंग तक ऑक्सीजन आसानी से पहुंच पाता है. अगर शरीर में हीमोग्लोबिन (Haemoglobin) उचित मात्रा में बनना बंद हो जाए तो शरीर की सभी मांसपेशियों और टीशूज तक पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं पहुंच पाएगा. शरीर में आयरन की कमी की वजह से जो बीमारी होती है उसे एनीमिया (Anemia) कहते हैं.

इन वजहों से हो सकती है शरीर में आयरन की कमी

अमेरिकी हेल्थ वेबसाइट healthline.com की मानें तो कई बार आयरन से भरपूर डाइट का सेवन न करने की वजह से भी शरीर में आयरन की कमी (Iron Deficiency) हो जाती है. इसके अलावा पीरियड्स के दौरान बहुत अधिक ब्लीडिंग होने की वजह से ब्लड लॉस होता है और अगर इस वक्त आयरन से भरपूर चीजें न खायी जाएं तो शरीर में आयरन की कमी हो सकती है. इसके अलावा प्रेग्नेंसी (Pregnancy) के दौरान आयरन की जरूरतें बढ़ जाती हैं और इस वजह से भी कई बार आयरन की कमी हो जाती है.

ये भी पढ़ें- क्या आप भी चाय या जूस के साथ दवा लेते हैं, डॉक्टर से जानें इसके नुकसान

आयरन की कमी की वजह से हो सकती हैं ये बीमारियां 

आयरन की कमी की समस्या का समय पर इलाज न किया जाए तो इम्यूनिटी कमजोर हो जाती है जिस वजह से व्यक्ति को डिप्रेशन (Depression) हो सकता है, इंफेक्शन (Infection) का खतरा बढ़ जाता है जिससे कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं, गर्भवती महिला के शरीर में आयरन की कमी हो जाए तो समय से पहले प्रीमैच्योर डिलीवरी (Premature delivery) का खतरा रहता है, जन्म के समय बच्चे का वजन कम हो सकता है, हृदय रोग का खतरा हो सकता है, बच्चों के शरीर में आयरन की कमी हो तो उनका विकास रुक जाता है.

ये भी पढ़ें- इन बीमारियों की वजह से भी आ सकते हैं खर्राटे, जानें इससे बचने के उपाय

शरीर में आयरन की कमी के लक्षण

1. बहुत अधिक थकान और कमजोरी महसूस होना
2. त्वचा का रंग पीला पड़ना या त्वचा का फीका पड़ना
3. सांस फूलना या सांस लेने में दिक्कत आना
4. हार्ट बीट (हृदय गति) का अनियमित होना
5. सिर में दर्द या चक्कर आना या सिर घूमना
6. सीने में दर्द महसूस होना
7. बाल और स्किन का ड्राई और डैमेज होना
8. रेस्टलेस लेग सिंड्रोम (पैरों में दर्द और झनझनाहट महसूस होना)   

(नोट: किसी भी उपाय को करने से पहले हमेशा किसी विशेषज्ञ या चिकित्सक से परामर्श करें. Zee News इस जानकारी के लिए जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है.)

सेहत से जुड़े अन्य लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें. 





Source link