सर्दियों के 3 महीनों में च्यवनप्राश आपको कैसे रखेगा सेहतमंद, जानें सेवन का सही तरीका

0
26


Chyawanprash In Winters: कुछ चीजों का क्रेज कभी नहीं बदलता है. पुराने समय में हमारे दादा-नाना सुबह-सुबह एक चम्मच च्यवनप्राश खाते थे और उनके घर के बच्चे उनके पीछे पड़ जाते थे. जिससे उन्हें भी थोड़ा च्यवनप्राश का स्वाद चखने को मिल जाएं. ये आज भी अधिकतर घरों में देखने को मिलता है. जमाना कितना ही पुराना क्यों न हो जाए, लेकिन च्यवनप्राश अपनी जगह बना हुआ है. सर्दियों के मौसम इसका सेवन बढ़ जाता है. दरअसल, च्यवनप्राश में कई जड़ी बूटियां होती हैं, जो हमारे शरीर को गर्म और इम्युनिटी बढ़ाने का काम करती हैं. इससे शरीर को वायरल इंफेक्शन से लड़ने में मदद मिलती है. लेकिन, बहुत से लोग च्यवनप्राश खाने का सही तरीका नहीं जानते हैं. इसे कब, किस तरह खाना चाहिए, ये आज हम इस आर्टिकल में बताएंगे. 

च्यवनप्राश कितना-कब और कैसे खाएं 
बचपन में लगभग सभी ने टीवी में च्यवनप्राश का प्रचार देखा ही होगा. इसे खाने से शरीर को बहुत से लाभ मिलते हैं. लेकिन इसे हमेशा पर्याप्त मात्रा में ही खाना चाहिए. अगर आप अधिक मात्रा में च्यवनप्राश का सेवन करते हैं, तो आपको पेट फूलने, लूज मोशन जैसी समस्या हो सकती है. एक व्यस्क रोजाना एक चम्मच च्यवनप्राश सुबह-शाम गुनगुने पानी या दूध के साथ ले सकता है. अगर बच्चों को आप च्यवनप्राश देना चाहते हैं तो उन्हें आधा चम्मच च्यवनप्राश सुबह-शाम दे सकते हैं. 

किस चीज के साथ न खाएं च्यवनप्राश 
अगर आपके परिवार में किसी को अस्थमा या सांस की दिक्कत है तो उन्हें दूध या दही के साथ च्यवनप्राश का सेवन न करने दें. साथ ही ब्लड शुगर की शिकायत वाले लोगों को भी डॉक्टर की सलाह के बाद ही इसका सेवन करना चाहिए. अगर आपका ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल है, तो आप हर दिन 3 ग्राम च्यवनप्राश का सेवन कर सकते हैं. 

च्यवनप्राश के फायदे
च्यवनप्राश शरीर की इम्यूनिटी को बढ़ाने का काम करता है. लेकिन ठंड के मौसम में च्यवनप्राश और भी फायदेमंद होता है. ये शरीर को होने वाले वायरल इंफेक्शन से बचाता है. च्यवनप्राश विटामिन, मिनरल और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है. च्यवनप्राश का सेवन प्रजनन क्षमता को भी बढ़ाता है. यह पुरुषों और महिलाओं, दोनों के लिए फायदेमंद होता है. 

Disclaimer: इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है. हालांकि इसकी नैतिक जिम्मेदारी ज़ी न्यूज़ हिन्दी की नहीं है. हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें. हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है.  





Source link