सर्दियों में बच्चों को घेर लेती हैं ये 10 बीमारियां, अगर इन बातों का रखेंगे ख्याल तो आपका लाडला नहीं पड़ेगा बीमार

0
17


Children care in winter: इस वक्त ठंड का मौसम पूरे चरम पर है. हेल्थ एक्सपर्ट्स कहते हैं कि सर्दी में कुछ बीमारियों का खतरा बहुत ज्यादा होता है. इसमें से कुछ बीमारियां ऐसी भी होती हैं, जो आपको सीधा अस्पताल पहुंचा सकती है. इस मौसम में खासकर बच्चों की सेहत का खास ख्याल रखना पड़ता है. क्योंकि सर्दी बढ़ते ही बच्चों को फ्लू और निमोनिया (Pneumonia) की शिकायत होने लगी है. 

सर्दी के मौसम में कई बच्चों में सर्दी और खांसी का असर लंबे समय तक बना रह सकता है. ऐसे में जरूरी है कि उनको बढ़ती ठंड से बचाकर रखें. डॉक्टरों का कहना है कि इस मौसम अगर बच्चों को बुखार या खांसी-जुकाम की शिकायत भी हो रही है तो इसे हल्के में नहीं लेना चाहिए और जल्द से जल्द डॉक्टर को दिखाना चाहिए.

सर्दियों में बच्चों को होने वाली आम बीमारियां (Common diseases of children in winter)

  1. जोड़ों में दर्द
  2. कोल्ड और फ्लू
  3. सर्दी और खांसी
  4. नाक बंद
  5. छींकना
  6. सिरदर्द
  7. शरीर में दर्द
  8. वायरल फीवर
  9. गले में सूजन
  10. कान का इंफेक्शन

सर्दियों के मौसम में ऐसे करें बच्चों की देखभाल (Take care of children like this in winter season)

  • बच्चों को कपड़े (Clothes)अच्छी तरह पहनाएं. 
  • कोशिश करें कि बच्चे का सिर  कान हमेशा कवर रहें. 
  • सोते समय बच्चों को कंबल से इस प्रकार से कवर करें कि वह पूरी रात इससे ढ़के रहे.
  • जिन इलाकों में ज्यादा ठंड पड़ रही है, वहां बच्चों को बिलकुल भी लेकर ना जाएं. 
  • कभी भी खिड़की या दरवाजे के पास वाले कमरे में बच्चे को न रखें. 
  • ज्यादा ठंड होने पर घर के खिड़की और दरवाजों को बंद ही रखें.
  • बच्चों की डाइट में गर्म चीजें शामिल करें.
  • बच्चों को रोज 1 अंडा खिलाएं
  • रात में सोने से पहले बच्चों को हल्दी वाला दूध पिलाएं

बच्चों को ठंड से बचाना बेहद जरूरी
बाल रोग विशेषज्ञ मानते हैं कि कम तापमान (Temperature) बच्चों के लिए खतरनाक साबित हो सकता है, क्योंकि उनके शरीर के लिए तापमान को बनाए रखना मुश्किल होता है. ऐसे में बच्चों को ठंड से बचाना जरूरी हो जाता है. 

ये भी पढ़ें; निखरी त्वचा चाहिए तो चेहरे पर लगाएं ये चीज, चमक जाएगा फेस, ये skin प्रॉब्लम दूग भाग जाएंगी

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ शिक्षित करने के उद्देश्य से दी जा रही है.​

WATCH LIVE TV





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here