सावधान! ये Whatsapp, YouTube ऐप्स आपके एंड्रॉयड फोन में भेज सकते हैं खतरनाक वायरस

0
31


आपके एंड्रॉयड फोन पर एक नए वायरस की खतरा मंडरा रहा है। यह वायरस आपके फोन में कब प्रवेश कर जाएगा, आपको भनक तक नहीं लगेगी, क्योंकि यह पॉपुलर ऐप्स के फेक वर्जन के माध्यम से डिवाइसेज में भेजा जा रहा है। Meta ने एक रिपोर्ट में इस खतरे के बारे में चेताया है। 

Meta की ओर से हाल ही में जारी की गई तिमाही एडवरसरिएल थ्रेट रिपोर्ट 2022 (Quarterly Adversarial Threat Report 2022) में इस मालवेयर के बारे में जिक्र किया गया है। मेटा ने इसके बारे में जानकारी दी है कि यह नया Dracarys मालवेयर है। इसे एंड्रॉयड डिवाइसेज में पॉपुलर ऐप्स के फेक वर्जन के माध्यम से भेजा जा रहा है। 

रिपोर्ट में साफ-साफ लिखा गया है कि यह नया मालवेयर एंड्रॉयड डिवाइस से कॉल लॉग, कॉन्टेक्ट इंफॉर्मेशन, फाइल, एसएमएस टेक्स्ट, जियोलोकेशन और डिवाइस डिटेल्स को चुरा लेता है। साथ ही यह चुपके से फोन या टैबलेट के माइक्रोफोन को चालू करके फोटो भी ले लेता है। Dracarys का नाम एक गेम Game of Thrones Battle cry for Dragons के नाम पर रखा गया है। इसे Bitter APT हैकिंग ग्रुप के द्वारा फैलाया जा रहा है जो यूनाइटेड किंगडम, न्यूजीलैंड, भारत और पाकिस्तान में अटैक कर रहे हैं।

एंड्रॉयड का यह नया मालवेयर YouTube, Signal, Telegram और WhatsApp जैसे ऐप्स के फेक वर्जन के माध्यम से फैलाया जा रहा है। यह डिवाइस की एक्सेसिबिलिटी को भेद कर डिवाइसे के बहुत सारे परमिशन की एक्सेस ले लेता है। इतना ही नहीं, यह डिवाइस में मौजूद एंटी वायरस को भी चकमा दे जाता है, खासकर उनके लिए जिन्होंने संक्रमित ऐप्स पहले से ही डाउनलोड कर रखे हैं। 

अभी यह शुरुआती दौर में बताया जा रहा है। उम्मीद है कि आने वाले कुछ दिनों में यह एंटीवायरस ऐप्स के माध्यम से स्कैन किया जा सकेगा। तब तक, आप सचेत रहें और गूगल प्ले स्टोर से अधिकारिक ऐप्स को ही डाउनलोड करें। 



Source link