स्विट्जरलैंड में लग सकता है EV पर बैन, जानें क्या है इसके पीछे बड़ी वजह?

0
15


हाइलाइट्स

स्विट्जरलैंड ईवी पर प्रतिबंध लगाने वाला पहला देश बन सकता है.
स्विट्जरलैंड इलेक्ट्रिसिटी का ज्यादातर हिस्सा आयात करता है.
ऊर्जा उत्पादन कम होने से सर्दियों में बिजली की आपूर्ति कम होगी.

नई दिल्ली. एक तरफ दुनियाभर के सभी देशों में इलेक्ट्रिक व्हीकल (EV) को अपनाने पर जोर दिया जा रहा है, दूसरी ओर एक देश ऐसा भी है जो ईवी पर प्रतिबंध लगाने की तैयारी कर रहा है. स्विट्जरलैंड ईवी पर प्रतिबंध लगाने वाला दुनिया का पहला देश बन सकता है. स्विट्जरलैंड में यह कदम इसलिए उठाया जा रहे है, जिससे देश में सर्दियों के मौसम में ऊर्जा की कमी न हो. खूबसूरत बर्फ से ढके पहाड़ों वाला देश अपनी जरूरत की इलेक्ट्रिसिटी का ज्यादातर हिस्सा फ्रांस और जर्मनी जैसे पड़ोसी देशों से आयात करता है.

इस बार रूस-यूक्रेन युद्ध की वजह से प्राकृतिक गैस की सप्लाई कम होने के कारण इन देशों में ऊर्जा उत्पादन में भारी कमी आई है. यह दशकों बाद पहली बार हुआ है, जब इन यूरोपीय देशों को ऊर्जा की कमी का सामना करना पड़ रहा है. फ्रांस भी कई सालों में पहली बार अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए ऊर्जा का आयात कर रहा है.

ये भी पढ़ें- Hyundai की इलेक्ट्रिक कार में मिलेगा लेवल 2 ADAS फीचर्स, देखें क्या होंगे इसके फायदे?

बिजली की कमी से जूझ रहा देश
स्विस फेडरल इलेक्ट्रिसिटी कमीशन एलकॉम ने इस साल जून में पहले ही कहा था है कि फ्रांस में परमाणु ऊर्जा उत्पादन कम होने के कारण सर्दियों के लिए बिजली की आपूर्ति कम हो सकती है. जर्मनी भी ऐसी ही स्थिति का सामना कर रहा है. कई वैश्विक मुद्दों के कारण  इस साल कम हुए ऊर्जा उत्पादन की वजह से देश मुश्किल से खुद के लिए ऊर्जा का उत्पादन कर पा रहे हैं. इसलिए, स्विट्जरलैंड को ऊर्जा निर्यात करने का सवाल ही नहीं उठता है.

ये भी पढ़ें- Honda जल्द लेकर आएगी हाइड्रोजन कार, जानें कैसे चलेगी और कब होगी लॉन्च?

ईवी चार्जिंग पर लगेगा प्रतिबंध
एलकॉम ने ऊर्जा के उपयोग को कम करने के लिए एक 4-स्टेप प्लान तैयार किया है. यूरोप में सर्दियों का मौसम काफी कठिन होता है. ऐसे में लोगों के लिए बिजली कटौती बर्दाश्त नहीं की जा सकता है. शहरों में बिजली के उपयोग को कम करने के लिए ईवी चार्जिंग पर प्रतिबंध लगा सकता है. ऐसी स्थिति में सिर्फ बहुत जरूरी होने पर ही ईवी को चार्ज करने की इजाजत दी जाएगी. यह काफी इनोवेटिव उपाय है, लेकिन यह इस बात को उजागर करता है कि यह मुद्दा कितना गंभीर है.

ईवी मालिकों के लिए एक गंभीर मुद्दा
रूस और यूक्रेन युद्ध की वजह से प्राकृतिक गैस की सप्लाई बाधित होने के कारण यह सिर्फ एक बार का मुद्दा हो सकता है. फिर भी यह दिखाता है कि वैश्विक व्यापार कितना महत्वपूर्ण है और दुनिया के एक हिस्से में भू-राजनीतिक मुद्दा दुनिया के कई हिस्सों में अन्य देशों को कैसे प्रभावित कर सकता है.

Tags: Auto News, Automobile, Electric Vehicles, Switzerland



Source link