BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली कोरोना पॉजिटिव, कोलकाता के अस्पताल में भर्ती

0
106


कोलकाता: BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं. बता दें कि इन दिनों तेजी से कोरोना के ओमिक्रॉन वैरिएंट के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. सौरव गांगुली भी कोरोना वायरस की चपेट में आने से नहीं बच सके. 49 साल के सौरव गांगुली को कोलकाता (Kolkata) के वुडलैंड्स (Woodlands Hospital) अस्पताल में भर्ती कराया गया है. डॉक्टर लगातार उनपर निगरानी रखे हुए हैं. 

सोमवार रात को हुआ टेस्ट 

सौरव गांगुली का कोरोना का टेस्ट सोमवार रात को हुआ था. उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. गांगुली पहली बार कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं. सौरव गांगुली को कोरोना के टीके की दोनों डोज लग चुकी है. इसके बावजूद उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. देश में ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों के बीच गांगुली का संक्रमित होना चिंता का विषय है. इससे पहले उनके परिवारवालों को कुछ महीने पहले कोरोना हुआ था. बता दें कि इसी साल की शुरुआत में सौरव गांगुली को हार्ट अटैक आया था, जिसके बाद उन्हें कुछ दिनों तक अस्पताल में भर्ती रहना पड़ा था. सौरव गांगुली को तब एक महीने में दो बार angioplasty करवानी पड़ी थी. हालांकि, उसके बाद वह ठीक हो गए थे और लगातार काम कर रहे थे. 

इसी साल आया था हार्ट अटैक

गांगुली एक साल के अंदर दूसरी बार अस्पताल पहुंचे हैं. इससे पहले जनवरी में हार्ट अटैक के चलते उन्हें अस्पताल में भर्ती होना पड़ा था. सौरव गांगुली को सीने में दर्द के बाद कोलकाता के ही वुडलैंड्स अस्पताल में भर्ती कराया गया था. जहां उनकी एंजियोप्लास्टी की गई थी. जब वह अपने घर के जिम में ट्रेडमिल कर रहे थे तब उन्हें सीने में तकलीफ का सामना करना पड़ा था. सौरव गांगुली के बाद उनके बड़े भाई स्नेहाशीष गांगुली की भी एंजियोप्लास्टी कराई गयी थी. कोलकाता के वुडलैंड्स अस्पताल में ही उनकी एंजियोप्लास्टी की गई थी. 

ओमिक्रॉन वैरियंट मचा रहा कहर 

देश में एक बार फिर कोरोना के केस लगातार बढ़ रहे हैं, कोरोना का नया वैरियंट ओमिक्रॉन पूरी दुनिया में कोहराम मचा रहा है, भारत में भी 600 से ज्यादा ओमिक्रान के केस आ चुके हैं कई हेल्थ एक्सपर्ट इसे कोरोना की तीसरी लहर तक बता रहे हैं. 

कोहली से पंगे के कारण विवादों में रहे सौरव

बता दें कि हाल ही में सौरव गांगुली विराट कोहली से पंगे के कारण लगातार सुर्खियों में बने रहे हैं, जब टीम इंडिया में कप्तानी को लेकर विवाद चल रहा था. जब विराट कोहली को वनडे टीम की कप्तानी से हटाया गया था, तब सौरव गांगुली ने बयान दिया था कि उन्होंने विराट से टी-20 की कप्तानी ना छोड़ने के लिए कहा था, लेकिन वह नहीं माने. इसके बाद सेलेक्टर्स ने व्हाइट बॉल फॉर्मेट में एक ही कप्तान बनाने का फैसला किया. हालांकि, विराट कोहली ने जब प्रेस कॉन्फ्रेंस की तब उन्होंने कहा कि किसी ने भी उनसे कप्तानी ना छोड़ने का अनुरोध नहीं किया.

सौरव गांगुली के रिकॉर्ड्स

सौरव गांगुली को भारत के सबसे सफल कप्तानों में गिना जाता है. गांगुली ने भारत के लिए 113 टेस्ट और 311 वनडे खेले. आपको बता दें कि सौरव गांगुली ने 1996 में इंग्लैंड के खिलाफ अपने पहले ही टेस्ट में शतक जड़कर अपने टेस्ट करियर जोरदार आगाज किया था. उन्होंने 49 टेस्ट और 147 वनडे मैचों में भारत की कप्तानी की.

बाएं हाथ के स्टाइलिश बल्लेबाज सौरव गांगुली ने अपने करियर में 113 टेस्ट मैचों में 42.17 की औसत से 7212 रन बनाए, जिनमें 16 शतक और 35 अर्धशतक शामिल हैं. वहीं 311 वनडे मैचों में उन्होंने 41.02 की औसत से 11363 रन बनाए, जिनमें 22 शतक और 72 अर्धशतक शामिल हैं. गांगुली ने टीम को ऐसे मुकाम पर पहुंचाया जो देश ही नहीं, बल्कि देश के बाहर भी जीतना जानती थी.

गांगुली की कप्तानी में ही टीम इंडिया 1983 के बाद 2003 में वर्ल्ड कप के फाइनल तक पहुंची. गांगुली की कप्तानी में भारतीय क्रिकेट टीम चैम्पियंस ट्रॉफी 2001 (श्रीलंका) और 2003 वर्ल्ड कप (दक्षिण अफ्रीका) के फाइनल में पहुंची. इसके अलावा भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ 2002 में नेट वेस्ट सीरीज जीती, जिसके बाद उन्होंने लॉर्ड्स की बालकनी में कमीज उतारकर लहराई थी.





Source link