CUCET 2022: अब सेंट्रल यूनिवर्सिटी कॉमन एंट्रेंस टेस्ट के जरिये होगा कॉलेज में एडमिशन, अप्रैल के पहले सप्ताह से शुरू आवेदन की प्रक्रिया

0
112


  • Hindi News
  • Career
  • Now Admission In The College Will Be Done Through The Central University Common Entrance Test, The Process Of Application Will Start From The First Week Of April

2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

सेंट्रल यूनिवर्सिटी कॉमन एंट्रेंस टेस्ट (CUCET) 2022-23 की परीक्षा (CUCET 2022 Exam Date) 23 भाषाओं (हिंदी, इंग्लिश, मराठी, गुजराती, असमिया, बंगाली, पंजाबी, ओडिया, मलयाली, तेलुगू, तमिल, कन्नड़, उर्दू) में आयोजित की जाएगी। यह एग्जाम नेशनल टेस्टिंग एजेंसी की तरफ से आयोजित किया जाएगा।

  1. द न्यू कॉमन यूनिवर्सिटी एजुकेशन टेस्ट जुलाई 2022 के पहले सप्ताह में उस वक्त होगा जब 12 वीं बोर्ड की एग्जाम खत्म हो चुकी होंगी। इसकी अप्लीकेशन प्रोसेस ऑनलाइन होगी जिसकी शुरुआत अप्रैल के पहले सप्ताह में होगी।
  2. ये एग्जाम कंप्यूटर बेस्ड होगी। यूजीसी के चैयरपर्सन ने बताया कि यह टेस्ट मल्टीपल चॉइस होगी।
  3. यूजीसी के अध्यक्ष एम जगदीश कुमार ने कहा कि अधिकांश विद्यार्थियों को कंप्यूटर में उतनी महारत हासिल नहीं है, जितना कि स्मार्टफोन में है। इसलिए वे स्मार्टफोन एग्जाम सेंटर पर ले जा सकेंगे। साथ ही मल्टीपल चॉइस प्रश्नों के उत्तर देने के लिए माउस का उपयोग भी कर सकेंगे।
  4. कुमार के अनुसार, कई अंडर ग्रेजुएट प्रोग्राम के लिए 100% कट ऑफ पर एडमिशन देना हास्यास्पद है। ऐसे में कॉमन एग्जाम देश के सभी स्टूडेंट्स के लिए एक समान अवसर प्रदान करेगी। इस तरह स्टूडेंट्स 12 वीं में ज्यादा मार्क्स लाने के बजाय सीखने पर फोकस कर सकेंगे।
  5. इस एंट्रेंस टेस्ट का आयोजन नेशनल टेस्टिंग एजेंसी द्वारा किया जा रहा है। ऐसे में कोई भी प्राइवेट, स्टेट या डीम्ड यूनिवर्सिटी यूजी की सीटों पर प्रवेश 12वीं के मेरिट के आधार पर नहीं देगी।
  6. यूजीसी चैयरपर्सन कुमार ने कहा कि ‘एक राष्ट्र, एक प्रवेश परीक्षा’ देश भर के स्टूडेंट्स को राहत देने वाली खबर है। इसके परिणामस्वरूप स्टूडेंट्स को एंट्रेंस टेस्ट के तौर पर डिफरेंट एंट्रेंस एग्जाम नहीं देना होगी।
  7. हर वो स्टूडेंट्स जिसने 12 वीं परीक्षा पास की है, कॉमन एंट्रेंस टेस्ट दे सकेगा। हालांकि 12 वीं कक्षा के मार्क्स द्वारा यूनिवर्सिटी में एडमिशन क्राइटेरिया सेट होगा।
  8. यूनिवर्सिटी में यूजी स्टूडेंट्स को कॉमन टेस्ट द्वारा प्रवेश मिलेगा। लेकिन उनकी योग्यता तय करने के लिए 12 वीं कक्षा के मार्क्स को ही बेंचमार्क माना जाएगा।
  9. ये एंट्रेंस टेस्ट 12 वीं कक्षा में एनसीईआरटी के मॉडल सिलेबस पर आधारित होगी।
  10. इस टेस्ट से आरक्षण की नीतियां प्रभावित नहीं होगी। यूनिवर्सिटी कैंडिडेट्स को सामान्य सीटों के साथ ही आरक्षित सीटों पर भी सीयूईटी स्कोर द्वारा एनरोल कर सकेगी।

खबरें और भी हैं…



Source link