Gastric Problem: क्या आप भी गैस की समस्या से रहते हैं परेशान? तो इन Foods से बना लें दूरी

0
22


Gastric Problem: आपके पेट में गैस महसूस होना आम बात है और हर एक व्यक्ति समय-समय पर इस असहज स्थिति से गुजरा होगा. खैर, आपको इसे स्वीकार करने में शर्मिंदगी महसूस करने की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि यह एक प्राकृतिक और सामान्य घटना है और एक तरह से स्वस्थ भी है. गैस का उत्पादन तब होता है, जब स्वस्थ बैक्टीरिया हमारे द्वारा खाए गए भोजन को तोड़ने और पचाने की कोशिश करते हैं. कुछ फूड ऐसे हैं, जो आंतों में गैस पैदा करने के लिए जाने जाते हैं. यदि आपका पेट सेंसिटिव है, तो इन चीजों को खाने से बचें.

1. बीन्स और दाल
ये आपके पेट के सबसे बड़े अपराधी हैं. यदि आपने कभी राजमा-चावल खाने के बाद पेट फूला हुआ महसूस किया है, तो शायद यह पेट में गैस बनने के कारण है. बीन्स में बड़ी मात्रा में रेफिनोज होता है, जिसे पचाना शरीर के लिए मुश्किल होता है. बीन्स को रात भर भिगोने, उन्हें पकाने और अगले दिन खाने से गैस कम करने में मदद मिल सकती है.

2. दूध
दूध में लैक्टोज (प्राकृतिक चीनी) पाया जाता है, जिसे कुछ लोगों को पचाने में मुश्किल हो सकती है और इससे उसका पेट फूला हुआ महसूस हो सकता है. यह लैक्टोज असहिष्णुता का लक्षण या केवल एक कमजोर आंत का संकेत हो सकता है.

3. साबुत अनाज
ओट्स और ब्राउन राइस जैसे साबुत अनाज को गैस पैदा करने से लिंक किया गया है. इनमें बहुत अधिक फाइबर, स्टार्च और रेफिनोज होते हैं, जो बड़ी आंत में टूट जाते हैं. इससे मीथेन, कार्बन-डाई-ऑक्साइड या हाइड्रोजन जैसी गैसें उत्पन्न करते हैं, जो अंततः मलाशय के माध्यम से बाहर निकल जाती हैं.

4. सब्जियां
कुछ सब्जियां जैसे ब्रोकोली, फूलगोभी या गोभी के सेवन से बचें. इनमें फाइबर और कार्बोहाइड्रेट की मात्रा ज्यादा होती हैं और इन्हें पचाने के तरीके के कारण शरीर अधिक गैस पैदा कर सकती हैं. 

5. फल
कुछ फलों जैसे सेब, आडू, नाशपाती, आदि में सोर्बिटोल (शक्कर का दूसरा रूप) पाया जाता है, जो गैस का उत्पादन कर सकता है. इसके अलावा, इसमें घुलनशील फाइबर हो सकता है, जो बड़ी आंत में पचने पर उप-उत्पाद के रूप में गैस पैदा करता है. 

6. स्टार्च युक्त फूड
ब्रेड, मक्का और आलू जैसे स्टार्च युक्त फूड आंतों में गैस पैदा कर सकते हैं, जिससे आपको असुविधा हो सकती है.

Disclaimer: इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है. हालांकि इसकी नैतिक जिम्मेदारी ज़ी न्यूज़ हिन्दी की नहीं है. हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें. हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है.





Source link