Google लाया ऐसा फीचर की अब नहीं होगा आपका ऑनलाइन चालान, जानें क्या है ये मामला

0
16


हाइलाइट्स

गूगल स्पीडोमीटर की मदद से आप ओवरस्पीडिंग करने से बच सकते हैं.
ये ऐप गूगल प्ले स्टोर पर एंड्रॉयड यूजर्स के लिए मुफ्त में उपलब्ध है.
इसमें मैप देखने के साथ ही उबड़ खाबड़ सड़कों पर जाने से भी बच सकते हैं.

सड़क पर गाड़ी चलाते समय सुरक्षा नियमों का पालन करना जरूरी होता है. ऐसा नहीं करने पर हजारों रुपये का चालान हो सकता है. कई बार लोग इससे बचने के लिए तरह-तरह के नुस्खे आजमाते हैं. लेकिन कैमरे की नजर में आने के बाद ऑनलाइन चालान हो जाता है. ओवर स्पीडिंग से बचने के लिए लोग गाड़ी को नियंत्रण में रखकर चलाते हैं. लेकिन कई बार खाली सड़क मिलने पर कुछ लोग खुद को रोक नहीं पाते हैं या फिर यूं कहें कि ओवर स्पीडिंग कर लेते हैं. 

अगर आपके साथ भी इसी तरह की समस्या है तो ऐसे में आप गूगल मैप्स में उपलब्ध स्पीडोमीटर की मदद लेकर ऑनलाइन चालान होने से बच सकते हैं. ये ऐप गूगल प्ले स्टोर पर मुफ्त में उपलब्ध है. 

यह भी पढ़ें: क्या आप जानते हैं कौन सी हैं Best Mileage Cars, मिलेगा 28 किमी. तक का एवरेज

क्या है गूगल स्पीडोमीटर

इस डिजिटल युग में लोग टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर अपने काम को आसन बना रहे हैं. सिर्फ इतना ही नहीं ऐसा कर वे हजारों रुपये बचा भी लेते हैं. गूगल मैप्स में एक तरह का अलग से स्पीडोमीटर फीचर दिया गया है. जिस तरह से कार में स्पीड देखने के लिए अलग-अलग मीटर मौजूद होता है. इसी तरह इस ऐप में भी स्पीडोमीटर दिया गया है. कार की मीटर खराब होने के बाद आप इसकी मदद ले सकते हैं. इसके अलावा चालान से बचने के लिए अधिकतर लोग इसी ऐप का इस्तेमाल करते हैं.

ऐसे करें Speedometer अनेबल

  1. गूगल मैप्स में स्पीडोमीटर अनेबल करने के लिए प्ले स्टोर से इस ऐप को स्मार्टफोन में डाउनलोड करें.
  2. इसके बाद ऐप खोलें और गूगल मैप की प्रोफाइल पर क्लिक करें.
  3. यहां सबसे नीचे सेटिंग पर क्लिक कर नेविगेशन सेटिंग में जाएं. 
  4. अब आपको ड्राइविंग में जाने के बाद स्पीडोमीटर पर क्लिक करना है. 
  5. इस पर क्लिक कर इस फीचर को ऑन या ऑफ कर सकते हैं. 
  6. इस फीचर को ऑन करने के बाद अपने अनुसार स्पीड लिमिट सेट करें.

यह भी पढ़ें: Tata दे रहा November Discount, देखें किन कारों पर ले सकते हैं 65 हजार तक छूट

स्पीडोमीटर कैसे करता है काम

ऐप में स्पीड लिमिट सेट करने के बाद जैसे ही गाड़ी की रफ्तार इससे अधिक होती है यह तुरंत ड्राइवर को अलर्ट करता है. अगर अलर्ट समझ में नहीं आए तो स्पीडोमीटर का रंग देखकर भी इसकी पहचान कर सकते हैं. ओवर स्पीड होने पर इसका रंग लाल हो जाता है. कई बार लोग कैमरा नजर नहीं आने पर गाड़ी को स्पीड लिमिट से अधिक रफ्तार में चलाते हैं. ऐसा करने से उन्हें बचना चाहिए. इससे न केवल वे खुद को बल्कि अन्य लोगों की जान भी जोखिम में डालते हैं.

Tags: Bike news, Car Bike News



Source link