Heart Attack: जानें कुछ ऐसे आध्यात्मिक तरीके, जो आपको दिल के दौरे से बचाएंगे

0
18


Spiritual Methods In Heart Attack: कोविड की बीमारी आने के बाद से लोगों को कई तरह की बीमारियां घेरने लगी हैं. इन्हीं में से एक है दिल का दौरा पड़ना यानी हार्ट अटैक. पिछले कुछ समय से ऐसा देखने को मिला कि दिल के दौरे (Heart Attack Cases) और कार्डियेक अरेस्ट (Cardiac Arrest) के मामले काफी बढ़ गए हैं. एक्सपर्ट्स का मानना है कि इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं. इसमें सबसे पहले हमारी खराब लाइफस्टाइल, बिगड़ी डाइट, एक्सरसाइज न करना और दूसरी क्रॉनिक बीमारियों पर कंट्रोल न रखना शामिल है. डॉक्टर्स कहते हैं कि अगर व्यक्ति की डाइट सही हो और वह फिज़ीकल एक्टिविटी को डेली लाइफ का हिस्सा बना ले तो, हार्ट अटैक के केसेस काफी हद तक कम हो सकते हैं. इसके अलावा कुछ आध्यात्मिक तरीके (Spiritual Methods Can Save From Heart Attack) भी हैं, जिनसे दिल के दौरे से बचाव किया जा सकता है. आइए जानें इनके बारे में…

1. भावनाओं को दिल में न दबाएं (Do Not Suppress Feelings)
कहते हैं दिल का भी एक दिमाग होता है, जिसे सदियों से भावनात्मक दिमाग माना गया है. व्यक्ति के विचार और सारे ख्याल दिल से होकर ही गुजरते हैं. ऐसे में जब आपकी भावनाएं आहत होती हैं, तो इससे दिल को दुख (Do Not Hurt Heart) होता है. जिससे दिल में दर्द के साथ आप ऊर्जा की कमी भी महसूस करने लगते हैं. वहीं आपके दिमाग में हर समय नकारात्मक बातें चलती हैं, तो आपको अपने मन की बात अपने किसी करीबी से शेयर करनी चाहिए. इसके अलावा आप थैरेपी (Heart Therapy) भी ले सकते हैं. लगातार नकारात्मक ख्याल (Negative Feelings) आपके दिल पर दबाव डालते हैं, जिसकी वजह से वह कभी भी हार सकता है.

2. संतुष्ट रहना सीखें (Learn To Be Content)
आज के समय में लोगों की इच्छाएं हर दिन बढ़ती जाती हैं. व्यक्ति अपने पास मौजूद चीजों में खुश नहीं रह पाता. हर समय दिमाग में 
अन्य चीजों को पाने इच्छा चलती रहती है, जिससे हमारा दिल थकने लगता है. एक मशीन की तरह दिल को भी ब्रेक और रिचार्ज होने की जरूरत होती है. इसलिए जरूरत से ज्यादा न सोचें और नाकारात्मक ख्यालों से दूर रहें. हमेशा पॉजीटिव सोचें (Positive Thinking) और गहरी-लंबी सांस लें. इससे दिल और दिमाग शांत (Peace In Mind) रहेगा. आपके पास मौजूद हर वस्तुओं के लिए हमेशा ईश्वर को धन्यवाद करें. 

3. अपने आसपास लोगों को खुश रखें (Make People)
अगर आपके आसपास के लोग आपसे दुखी हैं, तो इसकी नेगेटिविटी आपतक पहुंच सकती है. जिससे आपका दिल कमजोर (Weak Heart) बन सकता है. इसलिए अपने आसपास के लोगों को हमेशा खुश रखने की कोशिश करें, उन्हें समझने की कोशिश करें जिससे नकारात्मकता आपसे दूर रहे.

4. गहरी सांस वाली एक्सरसाइज करें (Do Breathing Exercises)
अगर आप दिमाग पर किसी भी बात का प्रेशर डालते हैं तो इससे हार्ट अटैक का जोखिम बढ़ता है. दिमाग को शांत रखना बहुत जरूरी है. इसके लिए आप ध्यान या कोई भी ब्रीथिंग एक्सरसाइज कर सकते हैं. इससे आपका शरीर, दिमाग और आत्मा आपस में जुड़ेगी. इसलिए रोजाना 10 मिनट के लिए ब्रीथिंग एक्सरसाइज का अभ्यास करें. इसके अलावा आप ज्यादा पानी पिएं (Drink Enough water). 

Disclaimer: इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है. हालांकि इसकी नैतिक जिम्मेदारी ज़ी न्यूज़ हिन्दी की नहीं है. हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें. हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है. 





Source link