IND vs BAN: दूसरे टेस्ट में अपनी ये बड़ी गलती सुधारेंगे कप्तान राहुल! इस फ्लॉप खिलाड़ी को करेंगे Playing 11 से बाहर

0
13


India vs Bangladesh, 2nd Test Match: भारत और बांग्लादेश के बीच दो मैचों की टेस्ट सीरीज का दूसरा और आखिरी मुकाबला कल सुबह 9:00 बजे से ढाका में खेला जाएगा. दो मैचों की इस टेस्ट सीरीज में टीम इंडिया ने पहले ही 1-0 से बढ़त बनाई हुई है. ऐसे में टीम इंडिया अगर दूसरा टेस्ट मैच भी जीत लेती है, तो वह बांग्लादेश का 2-0 से सूपड़ा साफ करते हुए सीरीज अपने नाम कर लेगी.

दूसरे टेस्ट में अपनी ये बड़ी गलती सुधारेंगे कप्तान राहुल!

भारत के नियमित कप्तान रोहित शर्मा चोट के कारण बांग्लादेश के खिलाफ दूसरा टेस्ट मैच भी नहीं खेलेंगे. ऐसे में केएल राहुल ही दूसरे टेस्ट मैच में टीम इंडिया की कप्तानी करेंगे. कप्तान केएल राहुल बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में अपनी सबसे बड़ी गलती को सुधारते हुए एक फ्लॉप खिलाड़ी को प्लेइंग इलेवन से बाहर का रास्ता दिखा सकते हैं. दूसरे टेस्ट मैच में इस खिलाड़ी का टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन से बाहर होना लगभग तय माना जा रहा है. 

कप्तान राहुल इस फ्लॉप खिलाड़ी को करेंगे Playing 11 से बाहर

बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में कप्तान केएल राहुल तेज गेंदबाज उमेश यादव को प्लेइंग इलेवन से बाहर का रास्ता दिखा सकते हैं. चटगांव में खेले गए पहले टेस्ट मैच में तेज गेंदबाज उमेश यादव का प्रदर्शन खराब रहा है. बांग्लादेश के खिलाफ चटगांव में खेले गए पहले टेस्ट की दोनों पारियों में मिलाकर उमेश यादव सिर्फ 2 विकेट ही हासिल कर पाए थे. 

टेस्ट टीम में जगह बचाना मुश्किल

चटगांव टेस्ट की पहली पारी में उमेश यादव ने 8 ओवरों की गेंदबाजी में 4.10 की इकॉनमी रेट से 33 रन लुटाते हुए सिर्फ 1 विकेट ही झटका था. उमेश यादव चटगांव टेस्ट की दूसरी पारी में भी फीके नजर आए और उन्होंने 15 ओवर में 27 रन देकर सिर्फ 1 विकेट ही झटका. टीम इंडिया में लगातार कॉम्पटीशन बढ़ता जा रहा है, ऐसे में उमेश यादव का ये प्रदर्शन उनकी टेस्ट टीम में जगह बचाने के लिए काफी नहीं है. 

इस खतरनाक खिलाड़ी को प्लेइंग इलेवन में लाने का वक्त आया 

कप्तान केएल राहुल बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में तेज गेंदबाज उमेश यादव को प्लेइंग इलेवन से बाहर कर फास्ट बॉलिंग ऑलराउंडर शार्दुल ठाकुर को मौका दे सकते हैं. उमेश यादव की तुलना में शार्दुल ठाकुर की तेज गेंदबाजी थोड़ी ज्यादा घातक है. ऐसा इसलिए, क्योंकि शार्दुल ठाकुर के पास से 135-140 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार के साथ बेहतरीन स्विंग भी है और वह बांग्लादेशी बल्लेबाजों के लिए काल भी साबित हो सकते हैं. शार्दुल ठाकुर निचले क्रम में उपयोगी बल्लेबाज भी हैं और टेस्ट क्रिकेट में उनके नाम 3 अर्धशतक भी हैं. ऐसे में दूसरे टेस्ट मैच में उमेश यादव की जगह शार्दुल ठाकुर को खिलाने का फैसला सही साबित हो सकता है.





Source link