IND vs PAK: कोई और होता तो… विराट कोहली से वर्ल्ड कप मैच में खाए छक्के, PAK पेसर ने अब कह दी ऐसी बात

0
20


Virat Kohli on Haris Rauf Bowling: भारतीय टीम का टी20 वर्ल्ड कप-2022 में प्रदर्शन उम्मीदों के अनुरूप नहीं रहा. रोहित शर्मा की कप्तानी वाली टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया में हुए टी20 वर्ल्ड कप में प्रबल दावेदार के रूप में उतरी लेकिन उसका सफर सेमीफाइनल में ही थम गया. टीम इंडिया ने पाकिस्तान के खिलाफ टूर्नामेंट के अपने पहले मैच में शानदार खेल दिखाया, खासतौर से विराट कोहली ने तो धुआंधार अंदाज में बल्लेबाजी की. उन्होंने 53 गेंदों पर नाबाद 82 रन बनाए. इस मैच में विराट ने हारिस रऊफ पर शानदार 2 छक्के जड़े. अब हारिस ने इस पर अपनी बात कही है. 

प्लेयर ऑफ द मैच बने विराट 

मेलबर्न में 23 अक्टूबर 2022 को भारत और पाकिस्तान के बीच टी20 वर्ल्ड कप के ग्रुप-2 का मुकाबला खेला गया. इस मैच में पाकिस्तान ने 8 विकेट पर 159 रन बनाए जिसके बाद भारत ने अंतिम गेंद पर लक्ष्य हासिल किया. विराट कोहली की 53 गेंदों पर 82 रनों की नाबाद पारी की बदौलत भारत ने 6 विकेट खोकर 160 रन बनाते हुए जीत हासिल की. विराट को प्लेयर ऑफ द मैच भी चुना गया. बाद में इंग्लैंड ने सेमीफाइनल में भारत को हराया जो बाद में पाकिस्तान को हराकर चैंपियन भी बना.
 
हारिस रऊफ पर लगाए छक्के

विराट कोहली ने अपनी 82 रनों की नाबाद पारी के दौरान 6 चौके और 4 छक्के जड़े. उन्होंने पारी के 19वें ओवर की आखिरी दो गेंद पर जो छक्के लगाए, उसे शायद ही कोई भूला होगा. इन दो गेंदों पर मैच का रुख ही बदल गया. हारिस रऊफ गेंदबाजी कर रहे थे. अब उन्होंने कोहली के उन 2 छक्कों को लेकर अपनी बात कही है. 

विराट अलग क्लास के खिलाड़ी

हारिस रऊफ ने क्रिकविक यूट्यूब चैनल पर कहा, ‘वर्ल्ड कप में जैसे विराट कोहली खेले, वो उनकी क्लास है. सभी को पता है कि जिस तरह के शॉट विराट खेलते हैं, जैसे उन्होंने हमारे खिलाफ टी20 वर्ल्ड कप के मुकाबले में छक्के जड़े, मुझे नहीं लगता कि कोई और खिलाड़ी ऐसा कर सकता था. अगर दिनेश कार्तिक या हार्दिक पांड्या मेरे ओवर में छक्के लगाते तो मुझे बुरा लगता लेकिन, वो कोहली ने किया. कोहली के बल्ले से छक्के निकले, वह बिल्कुल अलग क्लास के खिलाड़ी हैं.’

मुझे जरा भी अहसास नहीं था..

हारिस ने मैच में अपनी रणनीति को लेकर कहा, ‘मैं जानता था कि अगला ओवर मोहम्मद नवाज का है. मेरे दिमाग में यही चल रहा था कि वह स्पिनर हैं तो उनके लिए आखिरी ओवर में बचाव के लिए कम से कम 20 रन छोड़ने चाहिए. मैंने ओवर की पहली 4 गेंदों में एक फास्ट की थी, बाकी 3 धीमी (Slower) थीं. मैं यही सोच रहा था कि एक और स्लोअर गेंद बैक ऑफ लेंथ रखूंगा. मुझे इस बात का जरा भी एहसास नहीं था कि कोहली इस लेंथ पर भी सामने की तरफ शॉट लगा देंगे. मैंने जो गेंद फेंकी, वो सही थी लेकिन वो उनकी क्लास है.’

पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi– अब किसी और की ज़रूरत नहीं





Source link