Lady Finger Water Benefits: भिंडी का पानी देता है कई फायदे, जानें आसान रेसिपी

0
6


भिंडी को लेडी फिंगर और ओकरा के नाम से भी जाना जाता है. यह एक प्रसिद्ध सब्जी है और इसके बहुत से स्वास्थ्य लाभ हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि भिंडी का पानी भी लाभदायक हो सकता है. भिंडी का पानी पीने के फायदे जानने के लिए हमने आयुर्वेदिक विशेषज्ञ डॉ. अबरार मुल्तानी से जानकारी ली. उन्होंने बताया कि यह विटामिन सी और मैग्नीशियम का भी अच्छा सोर्स है. एक गिलास भिंडी के रस में 6 ग्राम कार्बोहाइड्रेट, 80 माइक्रोग्राम फोलेट, 3 ग्राम फाइबर और 2 ग्राम प्रोटीन मिलता है.

Lady Finger Water Recipe: ऐसे बनाएं भिंडी का पानी
4-6 अच्छी और ताजी भिंडी लेकर बीच से काट लें और फिर आधा गिलास पानी में भिगो दें. रात भर इनको ऐसे ही रहने दें. इसके बाद भिंडी के टुकड़े निचोड़ कर निकाल लें. फिर इसमें आधा गिलास पानी और  मिलाएं ताकि पानी की मात्रा करीब एक गिलास हो जाए.

Lady Finger Water Benefits: भिंडी का पानी पीने के फायदे
1. भिंडी का यह पानी हमारे दिल को स्वस्थ रखता है. इसमें मौजूद पैक्टिन कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है, साथ ही इसमें पाया जाने वाला घुलनशील फाइबर, रक्त में कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करता है, जिससे हृदय रोग का खतरा कम होता है.

2. भिंडी में पाया जाने वाला यूगेनॉल, डायबिटीज के लिए बेहद फायदेमंद साबित होता है. यह शरीर में शर्करा के स्तर को बढ़ने से रोकता है, जिससे डायबिटीज का खतरा कम होता है.

3. इसमें मौजूद आयरन हीमोग्लोबिन का निर्माण करने में सहायक होता है, और विटामिन-के, ब्लीडिंग को रोकने का कार्य करता है.

4. भिंडी फाइबर से भरपूर सब्जी है. इसमें मौजूद लसलसा फाइबर पाचन तंत्र के लिए बेहद फायदेमंद होता है. इससे पेट फूलना, कब्ज, एसिडिटी, अलसर और गैस जैसी समस्याएं नहीं होती.

5. भिंडी में पाया जाने वाला लसलसा पदार्थ पुरुषों के वीर्य को बढ़ाता है और उसके पतलेपन की समस्या को ठीक करता है. इसलिए यह यौन दुर्बलता और शीघ्रपतन में बहुत लाभदायक है.

6. भिंडी में पाया जाने वाला लसलसा पदार्थ हड्डियों के लिए लाभदायक होता है. इसमें पाया जाने वाला विटामिन-के हड्डियों को मजबूत बनाने में सहायक होता है.

7. भिंडी विटामिन-ए, बीटा कैरोटीन और एंटी-ऑक्सीडेंटस से भरपूर होती है, जो सेल्युलर मेटाबॉलिज्म से निकले फ्री-रेडिकल्स को समाप्त करने में सहायक होते हैं. यह कण अन्धेपन के लिए जिम्मेदार होते हैं. इसके अलावा भिंडी मोतियाबिंद से भी बचाती है.

Disclaimer:
इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है. हालांकि इसकी नैतिक जिम्मेदारी ज़ी न्यूज़ हिन्दी की नहीं है. हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें. हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है.





Source link