Late night sleep: रात में देर से सोने वालों के खराब हो जाते हैं लिवर और फेफड़े, जानिए सोने का सही समय

0
29


दुनियाभर की कई रिसर्च में ये बात सामने आई है कि व्यक्ति को हेल्दी लाइफस्टाइल जीने के लिए रोजाना 7-8 घंटे की नींद जरूरी है. इतने घंटे सोने के बाद आपकी नींद पूरी हो जाती है और फिर आप पूरे दिन काम कर सकते हैं. हालांकि, 7-8 घंटे की नींद के साथ सोने के सही समय का भी आपको ध्यान देना चाहिए. सही समय पर सोने और जागने से शरीर की इम्यूनिटी मजबूत होती है और दिल व डायबिटीज जैसी गंभीर बीमारियां भी दूर रहती हैं. लेकिन लोग यह नहीं जानते होंगे कि किस वक्त सोना आपके लिए ज्यादा फायदेमंद हो सकता है.

7 से 8 घंटे की नींद के फायदे
नियमित रूप से 7-8 घंटे की अच्छी नींद लेने से आपका स्ट्रेस लेवल कम होता है. इसके अलावा, आपका मूड बेहतर होता है, बेहतर तरीके से सोचता है और सही फैसले लेता है.

देर से सोने से नुकसान
7 से 8 घंटे की नींद का मतलब ये नहीं कि आप रात में देर से सोए और फिर सुबह लेट उठें. आज के ज्यादातर यंग लोग देर रात 2-3 बजे तक सोते हैं और सुबह फिर 10-11 बजे उठते हैं. तो इस आदत से आपको 7-8 घंटे की अच्छी नींद का फायदा नहीं मिलता है. जब तक आप सही समय पर सोते और उठते हैं तो नींद के फायदे नहीं मिलते हैं. एक्सपर्ट के अनुसार, देर रात तक जागने और फिर सुबह देर से उठने से आपके शरीर में कई समस्याएं होने लगती हैं. देर रात तक जागने से आपके फेफड़ों और लिवर खराब हो सकता है.

सोने का सही समय
हमें लोगों को सूर्योदय और सूर्यास्त के अनुसार ही सोना और जागना जरूरी है. इससे हमारे शरीर की बायोलॉजिकल क्लॉक ही गंदगी बाहर निकाले और रिपेयर करने का काम करती है. एक एडल्ट्स को रात 10:00 से 11:00 बजे के बीच सोने की कोशिश करनी चाहिए, ताकि वह सुबह सही टाइम पर उठ सके और एक हेल्दी जीवन जी सके.

Disclaimer: इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है. हालांकि इसकी नैतिक जिम्मेदारी ज़ी न्यूज़ हिन्दी की नहीं है. हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें. हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है.





Source link