RPSC की छवि बिगाड़ने का प्रयास: भवन व चेयरमैन आवास पर लगाए आपत्तिजनक पोस्टर, डिप्टी सेकेट्री ने दर्ज कराया मामला

0
27


अजमेर43 मिनट पहले

RPSC भवन व लगाए गए पोस्टर।

  • सिविल लाइन थाना पुलिस जांच में जुटी

राजस्थान लोक सेवा आयोग की छवि बिगाड़ने के लिए भवन व चेयरमैन आवास पर चिपकाए गए आपत्तिजनक पोस्टर्स को लेकर प्रशासन हरकत में आ गया है। आरपीएससी के डिप्टी सेकेट्री ने अज्ञात के खिलाफ सिविल लाइन थाने में मामला दर्ज कराया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

डिप्टी सेकेट्ररी ने दर्ज कराया मामला

माली मोहल्‍ला, कुन्‍दन नगर अजमेर निवासी राजस्‍थान लोक सेवा आयोग अजमेर के उप सचिव (समन्‍वय एवं व्‍यवस्‍था अनुभाग) चैनाराम पवांर पुत्र पुनमराम मेघवाल (52) ने रिपोर्ट देकर बताया कि 22 व 23 नवम्बर की रात को किन्‍ही अज्ञात व्‍यक्‍तियों की ओर से राजस्‍थान लोक सेवा आयोग, अजमेर (संवैधानिक संस्‍था) के विरुद्ध साजिश एवं अवैध कार्य करने के आशय का आपराधिक षडयंत्र रचा और आयोग भवन एवं आयोग के अध्‍यक्ष के सरकारी निवास की सार्वजनिक संपत्‍ति का विरुपण करने तथा सार्वजनिक संपत्‍ति को रिष्‍टि एवं नुकसान कारित करने के इरादे से पोस्‍टर लगा दिए। पुलिस ने राजस्‍थान संपत्‍ति विरुपण अधिनियम तथा धारा 120बी, 427 भारतीय दंड संहिता एवं धारा 3 PDPP अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर जांच उपनिरीक्षक विनोद कुमार को सौंपी है।

ऐसे पोस्टर लगाकर आरपीएससी की छवि धूमिल करने का प्रयास किया गया।

यह लगाए गए थे पोस्टर

पोस्टर में कॉलेज शिक्षा विभाग में सहायक आचार्य राजनीति विज्ञान 2020 के इंटरव्यू में हुई गड़बड़ी का मुद्दा उठाया गया है। ये पोस्टर समस्त पीड़ित छात्रों की ओर से लगाया गया बताया जा रहा है। अंधी बहरी गूंगी सरकार से यह है हमारी अंतिम अपील लिखकर छपा है राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा नियुक्त सरकारी दलाल प्रोफेसर आरएस आढ़ा से अभ्यर्थी सीधा संपर्क करें और नौकरी पाएं। अंग्रेजी में छपा है ऑल रिक्रूटमेंट पेमेंट एक्सेप्टेड हियर। दो क्यू आर कोड दिए गए हैं। एक में पे आरपीएससी लिखा हुआ है। पैसे लो और नौकरी पाओ करप्शन @ वाई बी और दूसरे क्यू आर कोड पर पे ब्रोकर लिखा हुआ है। इसमें एक व्यक्ति का फोटो छपा है और नीचे लिखा है 100% नौकरी की गारंटी। संपर्क [email protected] वाईबी छपा है। पोस्टर में कई अन्य आपत्तिजनक शब्द लिखे गए हैं।

पढे़ ये खबर भी…

शादी में खर्च हुआ पैसा नहीं दिया तो हुआ गुस्सा

शादी में खर्च हुआ पैसा नहीं दिया तो हुआ गुस्सा

पत्नी को चाकू से काटा, ‘क्राइम पेट्रोल’ देखकर आया हत्या का आइडिया

अजमेर में इंटरकास्ट मैरिज के 26 दिन बाद पत्नी की हत्या के मामले में एक नया खुलासा हुआ है। आरोपी पति ने मर्डर से पहले क्राइम पेट्रोल सीरियल देखा था। सीरियल से उसे मर्डर का आइडिया आया। उसने पत्नी की चाकू से गला रेत दिया और जान निकलने तक पेट पर चाकू से वार करता रहा। दरअसल, बुधवार को द्वारका नगर गली नंबर-4 चौरसियावास निवासी 36 साल के कपड़ा कारोबारी मुकेश कुमार केशवानी ने अपनी 32 साल की पत्नी जेनिफर की घर में गला रेत कर बेरहमी से हत्या कर दी थी। (पूरी खबर पढ़ने के लिए करें क्लिक)

खबरें और भी हैं…



Source link